नरसिंहपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

नर्मदा के सतधारा पुल के पास बरामद स्कूटी और गुमशुदा जिस 19 वर्षीय युवक को पुलिस नर्मदा में खोज रही थी वह तिरुपति बालाजी में घूम रहा था। नर्मदा तट पर युवक के परिजनों की मौजूदगी में जब पुलिस जुटी थी उसी दौरान युवक ने तिरुपति से अपने परिजनों को फोन कर बताया कि वह तिरुपति घूमने आया है और अब लौट रहा है। 2 दिन से अनहोनी की आशंका से घबराए परिजनों ने बेटा सुरक्षित मिलने की सूचना पर राहत की सांस ली और खोज में जुटे पुलिस अधिकारियों से भी बेटे की बात कराई।

नगर के रामवार्ड कंदेली निवासी सुजल (19) पिता मनीष साहू बीती 12 जुलाई को रहस्यमय ढंग से गायब हो गया था। जिसकी परिजनों ने कई स्थानों पर तलाश की और जब सुजल का पता नहीं चला तो कोतवाली में गुमशुदी की रिपोर्ट दर्ज कराई। मामले की पतासाजी दौरान ही बरमान पुलिस को सतधारा में एक स्कूटी लावारिस हालत में खड़ी मिली। जिसकी जांच में पता चला कि स्कूटी कोतवाली क्षेत्र से गुमशुदा सुजल की है। नर्मदा किनारे स्कूटी मिलने से पुलिस के साथ परिजन भी परेशान रहे और नर्मदा सहित आसपास युवक की तलाशी शुरू की गई। सुजल के पिता मनीष साहू ने बताया कि शनिवार को जब कोतवाली पुलिस की मौजूदगी में वह नर्मदा में सुजल की तलाश के दौरान मौजूद थे उसी दौरान शाम करीब साढ़े 4 बजे सुजल ने उन्हें फोन कर बताया कि वह तिरुपति बालाजी के दर्शन करने चला गया था और लौटकर घर आ रहा है। सुजल की बात कोतवाली प्रभारी से भी कराई गई और सुजल ने परिवार के अन्य लोगों से भी बात की। बेटे के सही-सलामत घर लौटने की खबर से परिवार के साथ पुलिस भी राहत की सांस ले रही है लेकिन यह स्पष्ट नहीं हो रहा है कि युवक ने आखिर यह कदम क्यों उठाया।