ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

तीन साल पूर्व पनिहार रोड स्थित सोलंकी फार्म हाउस से अपह्रत सूर्यांश सोलंकी का अब तक पुलिस कोई सुराग नहीं लगा पाई है। अपहरण के समय सूर्यांश तीन साल का था। अपह्रत के परिजनों ने सूर्यांश को अपने स्तर पर तलाश किया। देशभर में उसके पोस्टर भी चस्पा किए। अपह्रत के पिता जयंत सोलंकी ने बेटे का सुराग लगाने के लिए सीबीआई जांच की मांग की है। सीबीआई जांच की मांग के लिए वह कोर्ट में भी दस्तक देंगे।

पनिहार रोड पर स्थित सोलंकी फार्म हाउस में निवास करने वाले जयंत सोलंकी का 3 वर्षीय पुत्र सूर्यांश 7 सितंबर की सुबह तैयार होने के बाद फार्म हाउस में खेल रहा था। अचानक वह गायब हो गया। सोलंकी परिवार ने तत्काल सूर्यांश के गायब होने की सूचना पनिहार थाना पुलिस को दी। सूर्यांश के गायब होने की सूचना मिलते तत्कालीन एएसपी देहात योगेश्वर शर्मा एवं पनिहार थाना टीआई विनय शर्मा मौके पर पहुंच गए। पनिहार थाना पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ सूर्यांश के अपहरण का मामला दर्ज कर लिया।

आसपास के जिलों में भी की तलाशः पुलिस ने अपह्रत बालक को पनिहार, घाटीगांव, मोहना सहित आसपास के जिले श्योपुर, मुरैना, शिवपुरी में भी तलाश किया, लेकिन अपह्रत सूर्यांश का कुछ पता नहीं चला। तत्कालीन एसपी हरिनारायाण चारी मिश्र ने बालक का सुराग लगाने के लिए 5 हजार का इनाम भी घोषित किया। वहीं परिजन ने भी सूर्यांश का पता बताने के लिए इनाम देने की घोषणा की थी।

दो एसपी बदल गए, लेकिन सूर्यांश नहीं मिलाः

अपह्रत के पिता जयंत सोलंकी ने बताया कि तीन साल में तत्कालीन एसपी हरिनारायाणचारी मिश्र सहित दो एसपी बदल गए, लेकिन अब तक उनके बेटे का कुछ पता नहीं चला है। उन्होंने सूर्यांश के अपहरण के मामले जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। सीबीआई से जांच कराने के लिए वह कोर्ट में जाएंगे।