- मामला सेंटपॉल स्कूल में छात्र के साथ मारपीट का

- रविवार को पुलिस बयान लेने नहीं पहुंची

ग्वालियर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सेंटपॉल स्कूल के छात्र नीत रॉय की हालत में रविवार को काफी सुधार दिखा। उसने परिजन से मांगकर खाना खाया है। साथ ही रविवार को सेंटपॉल स्कूल से फादर अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने प्रार्थना की और बच्चे के जल्दी स्वस्थ होने की बात कही।

बुधवार को सेंटपॉल स्कूल में परिजन को बेहोशी की अवस्था में मिले 5वीं के छात्र नीत रॉय वर्मा को गंभीर हालत में बिड़ला अस्पताल में भर्ती कराया था। जिस समय छात्र को भर्ती किया गया था। उसकी हालत बेहत नाजुक थी। उसी दिन रात को 12बजे के लगभग छात्र ने होश आने पर तीन छात्रों के नाम लेकर मारपीट का आरोप लगाया था। जिसके बाद यह मामला हाईप्रोफाइल हो गया था। क्योंकि यह स्कूल शहर के बड़े स्कूलों में से एक है। इस मामले में सीसीटीवी फुटेज और डॉक्टर की रिपोर्ट के आधर पर मारपीट की सही पुष्टि नहीं हो पाने के कारण पुलिस बार-बार पीड़ित छात्र के बयान दर्ज कर चुकी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। रविवार को इस मामले में राहत की बात यह रही कि छात्र नीत रॉय वर्मा की हालत में काफी सुधार आया है। उसने अपने परिजन से मांगकर दो रोटी खाई हैं। डॉक्टर के मुताबिक अब वह खतरे से बाहर है। जल्द उसे जनरल वार्ड में भी शिफ्ट किया जा सकता है। इतना ही नहीं रविवार को फादर जॉन जेवियर भी अस्पातल पहुंचे। यहां उन्होंने छात्र के लिए प्रार्थना की और उसे आशीर्वाद दिया। साथ ही उसके स्वस्थ होने की कामना की। परिवार को स्कूल की तरफ से हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।