-भरतनाटयम और ओडिसी नृत्य देख रोमांचित दर्शक

-रिवेरा टाउन स्थित एआईटीआई ट्रेनिंग सेंटर ऑडिटोरियम में भारतीय संस्कृति यात्रा एवं उत्सव का दूसरा दिन

भोपाल। नवदुनिया रिपोर्टर

रिवेरा टाउन स्थित एआईटीआई ट्रेनिंग सेंटर ऑडिटोरियम में हिंदुस्तान आर्ट एंड म्यूजिक सोसायटी की ओर से भारतीय संस्कृति यात्रा एवं उत्सव के अंतिम दिन भी कई प्रस्तुतियां हुईं। यात्रा के दूसरे दिन कलाकारों ने वादन और कथक नृत्य की प्रभावी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में शास्त्रीय संगीत की प्रभावी प्रस्तुति दी गई। कलाकारों ने प्रस्तुति देकर सभी का दिल जीत लिया। कलाकारों ने संगीत की प्रस्तुति देकर शाम को यादगार बना दिया।

पंडित प्रोसेनजीत पोद्दार की संगीतमय प्रस्तुति

मंच पर रिदम ऑफ मोशन के तहत पंडित प्रोसेनजीत पोद्दार के ग्रुप द्वारा शानदार संगीतमय प्रस्तुति दी गई। इस मौके पर संगत कलाकारों में एस वेंकट रमन ने मृदंगम पर सहयोग दिया। स्वामीनाथन पिल्लई व निनाद अधिकारी संतूर पर अपनी कला को प्रदर्शन करते दिखे। पंडित प्रोसेनजीत पोद्दार के साथ विजोय मंडल ने हारमोनियम पर संगत दी। तबले पर गुरूपददास ने सहयोग किया।

कलाकारों के भाव और मुद्राएं

इसके बाद समूह नृत्य प्रस्तुतियों ने समां बांधा। नृत्य और सुरों की ताल को सभी ने आंखे बंद कर महसूस किया। मंच पर ओडिसी नृत्य का प्रभावी मंचन किया गया। ग्रुप ओडिसी डांस में देवधारा संस्था नई दिल्ली के कलाकार मंच पर दिखे। मंच पर अगली प्रस्तुति कथक डांस की हुई। जिसे नयानिका चौधरी ने अपनी प्रभावी प्रस्तुति दी। भरतनाटयम में डॉ. अर्कदेव भट्टाचार्य और साथी कलाकारों ने भावों और मुद्राओं से नृत्य की कई बारीकियों से सभी को अवगत कराया। मंच पर भुवनेश्वर की संस्था त्रिधारा की ओर से ओडिसी डांस पेश किया गया।

समूह नृत्य प्रस्तुति

कार्यक्रम में भोपाल की संस्था अक्षयानि कला एवं संस्कृति समिति की ओर से समूह नृत्य पेश किया गया। प्रतिभागियों ने पारंपरिक वेशभूषा के साथ नृत्य को दिखाया। इस मौके पर बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे। कार्यक्रम में नृत्य के दौरान समूह नृत्य प्रस्तुतियों को देख दर्शक रोमांचित हो उठे। नृत्य में कलाकारों ने अलग-अलग प्रसंगों को शामिल किया।