-जेल प्रबंधन की लापरवाही उजागर,

-धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में बंद है सपा नेता

नसरुल्लागंज। शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने एवं धारा 144 के आरोप में स्थानीय उप जेल में बंद सपा नेता अर्जुन आर्य का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें वह जेल के अंदर से ही सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ बयानबाजी करता दिख रहा है। इस वीडियो से जेल प्रबंधन की लापरवाही उजागर हुई है कि सपा नेता के पास मोबाइल फोन कैसे पहुंचा।

उल्लेखनीय है कि तहसील परिसर में धारा 144 लागू होने के बावजूद सपा नेता अर्जुन आर्य वहां आमरण अनशन पर बैठा था। जिस पर शुक्रवार को उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। उसके 10 अन्य साथियों को भी गिरफ्तार किया गया था, जिन्हें बाद में जमानत मिल गई थी। अर्जुन अब तक बंद है। अब जेल से ही उसका वीडियो सामने आया है। जानकारी के अनुसार सपा नेता अर्जुन से जेल में मिलने के लिए कोई समर्थक पहुंचा था। इस मुलाकात के दौरान ही यह वीडियो बनाया गया है। इस वीडियो में सपा नेता अर्जुन आर्य अपने कार्यकर्ताओं से बात करते नजर आ रहा है। जिसमें वह केंद्र सरकार, प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री के खिलाफ बयानबाजी कर रहा है। साथ ही मुख्यमंत्री पर गंभीर आरोप भी लगा रहा है। इस दौरान जेल का एक भी प्रहरी उसके आसपास नजर नहीं आ रहा। जिससे साफ जाहिर है कि जेल प्रबंधन ने लापरवाही बरती है। वीडियो वायरल होने के बाद जेल प्रबंधन ने सपा नेता अर्जुन के खिलाफ धारा 52 के तहत केस दर्ज कराया है। अब प्रबंधन मुलाकात की व्यवस्था बदलने की बात कह रहा है।

व्यवस्था में बदलाव करेंगे

यह वीडियो मुलाकात के दौरान बाहर से बनाया गया है। इस घटना की पुनरावृत्ति रोकने केलिए व्यवस्था में बदलाव किया जाएगा। किसी भी बंदी से सिर्फ एक या दो लोगों को ही मुलाकात की अनुमति दी जाएगी। इस दौरान वहां जेल का सिपाही भी मौजूद रहेगा।

-गौरी शंकर दुबे, प्रभारी जेलर, उप जेल नसरुल्लागंज

---------------------