नरसिंहपुर।

मंगलवार को बचई स्थित महाकौशल शुगर मिल में बेचे गए गन्ने का भुगतान लेने पहुंचे किसानों को काउंटर से पर्याप्त पैसा नहीं मिला। किसानों ने कहा कि जिन दबंग किसानों के लिए नेताओं का फोन मिल कर्मचारियों के पास आता है, उन्हें एकमुश्त 4-4, 5-5 लाख रुपए दिए जा रहे हैं और हमारे घर में शादी है, बाजार का कर्ज है तो उसके लिए मिल के नुमाईंदे कुल बकाया की 40 प्रतिशत राशि ही दे रहे हैं। किसानों की ऐसी शिकवा-शिकायतें जब दोपहर बाद काउंटर पर बढ़ीं तो कर्मचारियों ने काउंटर बंद कर दिया, जिससे गुस्साए किसान हंगामा करते हुए मिल के गेट पर और फिर हाइवे पर आकर खड़े हो गए, जिससे दोनों तरफ से वाहनों की आवाजाही करीब एक-डेढ़ घंटे बंद रही। बचई शुगर मिल की कार्यप्रणाली से किसान खासे परेशान हैं। यहां दो दिन से बकाया वितरण के लिए मिल प्रबंधन ने काउंटर खोल रखा है, लेकिन प्रभावशाली किसानों को ही गन्ना की पूरी बकाया राशि मिल रही है, छोटे किसान घंटों काउंटर पर लाइन में लगते हैं और उन्हें 10-10, 20-20 हजार रुपए ही दिया जा रहा है।मुंगवानी पुलिस के अनुसार मंगलवार की शाम करीब 4 बजे इसी बात पर किसान गुस्साए कि मिल द्वारा किसी प्रभावशाली किसान को एकमुश्त 5 लाख रुपए का भुगतान किया गया और यहां डांगीढाना, चीलाचौन, बेलखेड़ी, सहजपुरा सहित दर्जनों गांव से आए किसानों के बकाया रकम में 40 प्रश ही दी जा रही थी।

करीब डेढ़-दो सौ लोगों की बनाई गई सूची

एसडीएम राजेन्द्र राय के अनुसार मिल प्रबंधन से इस मामले में बात हुई है, करीब डेढ़-दो सौ लोगों की सूची बनाई गई है, जिनका भुगतान मंगलवार को दिया जाना था। इस सूची के अनुसार करीब 80 फीसदी भुगतान किसानों को जल्द से जल्द कराने की व्यवस्था की जा रही है।

प्रबंधन का मोबाइल रहा बंद

पूरे मामले में शुगर मिल प्रबंधन का पक्ष जानने की कोशिश की गई। मिल प्रबंधक नवाब रजा के मो.नंबर 9575571213 व दूसरा नंबर 9425004274 पर बात करने की कोशिश की गई, लेकिन संपर्क नहीं हो सका। बैठक आजः बताया जाता है कि किसानों को समझाने गए अधिकारियों ने कहा है कि बुधवार को सीएम हाऊस में बैठक होगी। जिससे किसानों को बड़ी उम्मीदें हैं उन्हें लगता है कि बकाया भुगतान मिल जाएगा।