भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

दहेज में मोटी रकम लाने को लेकर एक साइंटिस्ट और उसके माता-पिता ने बहू को घर से निकाल दिया। मायके में रह रही युवती की शिकायत पर पुलिस ने ससुराल पक्ष के खिलाफ दहेज एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।

एमपी नगर पुलिस के मुताबिक 26 वर्षीय युवती ऐशबाग स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में अपने माता-पिता के साथ रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही है। युवती ने 3 नवंबर-18 को ऐशबाग थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी। उसमें बताया कि उसकी शादी 2016 में रतलाम निवासी ईशान माहेश्वरी के साथ हुई थी। ईशान बैंगलोर में इसरो में साइंटिस्ट है। ईशान के पिता ललित माहेश्वरी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में पदस्थ हैं। युवती के मुताबिक शादी के बाद कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक चला,लेकिन अगस्त-2016 में उसके ससुर का तबादला एसबीआई मुख्यालय भोपाल हो गया। वह भी सास-ससुर के साथ मैदा मिल स्थित रेवा परिसर में आकर रहने लगी। कुछ दिन बाद उसका पति ईशान भोपाल आया,लेकिन उसका व्यवहार उसके प्रति बदला हुआ था। उसने कहा कि तुम्हारे माता-पिता ने हमारी हैसियत के हिसाब से दहेज नहीं दिया है। इसके बाद दहेज को लेकर उसके साथ मारपीट की जाने लगी। वह बीमार पड़ती थी,तो उसका इलाज भी नहीं कराया जाता था। कुछ दिन बाद उन लोगों ने उसे जबरन मायके भेज दिया। साथ ही कहा कि जब दहेज का इंतजाम हो जाए,तो आ जाना। ऐशबाग पुलिस ने युवती की शिकायत पर पति सहित ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ दहेज एक्ट का केस जीरो पर दर्ज कर केस डायरी एमपी नगर थाने भेज दी।

---------------------