सीधी। कलेक्टर दिलीप कुमार की अध्यक्षता में आयोजित जनसुनवाई में 140 आवेदन प्राप्त हुए। श्री कुमार ने उपस्थित जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि आवेदनों का समय सीमा में निराकरण सुनिश्चित करें। जन सुनवाई में अपर कलेक्टर डीपी वर्मन सहित सभी विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे। इसमें पेयजल संबंधी, सूखा राहत का लाभ दिलाने, इंदिरा आवास योजना अंतर्गत द्वितीय किस्त दिलवाने, बीपीएल मे नाम जोडने, निराश्रित पेंशन, विकलांगता पेन्द्यान, बीमारी सहायता में लाभ दिलाने, जमीनी विवाद, सार्वजनिक रास्ता खुलवाने, प्रधानमंत्री आवास योजना, सीमांकन एवं शौचालय का भुगतान आदि सम्बन्धी आवेदन मिले।

आर्थिक सहायता स्वीकृत

जनसुनवाई में आई ग्राम अमरवाह तहसील गोपद बनास की सोनिया बसोर ने बताया कि उसके पति प्रेमलाल बसोर मानसिक रूप से अविकसित है, उसके दो छोटे-छोटे बच्चें है तथा उसके पास अजीविका का कोई भी साधन नहीं है एवं बच्चें भूख प्यास से मर रहें हैं। कलेक्टर श्री कुमार ने मानवीय आधार पर मप्र अनुसूचित जाति राहत योजना 2015 के अन्तर्गत सोनिया बसोर को 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है।

000000000000

बाल विवाह को रोकने कलेक्टर ने गठित किए दल

बाल विवाह में सहयोग करने वालों के विरूद्ध भी होगी दण्डात्मक कार्रवाई

सीधी। अक्षय तृतीया को दृष्टिगत रखते हुए जिले में होने वाले संभावित बाल विवाह को रोकने के लिए बाल विवाह प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्रत्येक विकास खण्ड में कलेक्ट दिलीप कुमार ने उड़नदस्तों के बलों का गठन किया है। विकासखण्ड सीधी के दल प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी गोपद बनास, विकासखण्ड रामपुर नैकिन के दल प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी चुरहट, विकासखण्ड सिहावल के दल प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी सिहावल, विकासखण्ड मझौली के दल प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी मझौली और विकासखण्ड कुसमी के दल प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी कुसमी को नियुक्त किया है। श्री कुमार ने निर्देश दिए है कि ये दल अपने-अपने क्षेत्राधिकार अंतर्गत होने वाले सामूहिक विवाहों में वर-वधुओं की आयु प्रमाण पत्रों का अवलोकन करेंगे। किसी भी परिस्थिति में वर की आयु 21 वर्ष से कम तथा वधु की आयु 18 वर्ष से कम न हो। आयु कम पाये जाने पर बाल विवाह रोकने का प्रयास करेंगे। अन्यथा वैधानिक कार्रवाई करेंगे।

फोटो 18 प्रतिभावना सम्मानित छात्रों के साथ विद्यालय प्रबंधन

प्रतिभावान छात्रों का सर्वोदय में हुआ सम्मान

सीधी। सर्वोदय विद्या मंदिर में वार्षिक परीक्षा के परिणाम की घोषणा के बाद सम्मान समारोह का आयोजन परीक्षा प्रभारी आरके सेन व सौरभ शुक्ला के संयोजन में किया गया। जिसमें कक्षा एलकेजी से अंशिका गुप्ता, यूकेजी से सूरज व इमरान, पहली से सुमित सिंह, दूसरी से ऋत्विक, तीसरी से भमर सिंह, चौथी से आरुषि सिंह, पाँचवी से सृष्टि मिश्र व धीरज सिंह, छठवीं से उमंग शुक्ला व संजना शुक्ला, सातवी से अमन सिंह व आराधना त्रिपाठी, आठवीं से आयुष शुक्ला व रमेश पटेल, नौवीं से पीयूष गुप्ता व वेद प्रकाश तिवारी को कक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया।

छात्रों को संबोधित करते हुए संचालक एसके शुक्ला ने कहा कि छात्र जीवन जीवनकाल का स्वर्णिम काल होता है। जो सच्ची निष्ठा व लगन से कार्य करेगा वो अवश्य ही सफलता प्राप्त करेगा। विद्यालय प्रबंधन प्रतिभावान छात्रों को सम्मानित करता रहेगा । विद्यालय प्राचार्य एके द्विवेदी ने बताया गया कि विद्यालय प्रबंधन द्वारा ग्रीष्मकालीन कक्षाएँ संचालित की जाएंगी। जिसमें कला व संगीत के साथ विशेष कक्षाओ का संचालन किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रभारी प्राचार्य पीके शुक्ल, प्रधानाध्यपक पीएन गुप्ता सहित समस्त अध्यापक व बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।