रीवा। नईदुनिया प्रतिनिधि

फैलता बाजार सिकुड़ती सड़कें सुनने में बात अटपटी जरूर लगती है। यह स्थिति है नगर निगम परिधि के अंदर संचालित रीवा बाजार की। जहां दुकानदार अपने दुकान के अंदर रखे माल की नुमाइश सड़क पर करते हैं। उनके मन में न तो नगर निगम के कर्मचारियों का भय होता है न ही पुलिस का। हर बार मुहिम चलाकर नगर निगम अतिक्रमण विरोधी दस्ता व्यापारियों को अल्टीमेटम जारी करता है। व्यापारी सामान भी दुकान के अंदर रख लेते हैं। मुहिम जैसे ही आगे बढ़ती है पुनः व्यापारी अपने माल की नुमाइश सड़क पर ही करते नजर आने लगते हैं। जिसके पीछे ननि की कमाऊ, खाऊ नीति एवं राजनैतिक गलियारों में दम-खम रखने वाले नेताओं का फोन जिम्मेदार बताया जा रहा है। हर बार यातायात के लिए नासूर बने बेजा अतिक्रमण को हटाने के लिए कलेक्ट्रेट में अधिकारियों की बैठक होती है। लम्बे-चौड़े स्टेटमेंट जारी किए जाते हैं। अतिक्रमण विरोधी मुहीम भी चलाई जाती है, लेकिन परिणाम सिफर ही रहता है। तीन माह की बात करें तो ननि ने अलग-अलग 7 रूटों पर अतिक्रमण हटाने का काम किया। लेकिन वर्तमान स्थित में इन सभी 7 गलियों में अतिक्रमण साफतौर पर देखा जा सकता है और यहां आएं दिन जाम की स्थिति बनी रहती है।

कम नहीं हैं व्यापारी

एक तरफ व्यंकट मार्ग सकरा है तो वहीं व्यापारियों का व्यापार सड़क तक फैला रहता है। दुकानों के अंदर के सामान भले ही कम रखा हो उनकी ज्यादातर दुकान का सामान सड़क और फुटपाथ पर जमा रहता है। जिसके चलते आवागमन प्रभावित हो रहा है। शुभ लग्न होने के चलते कूलर, पंखा व्यापारी, सड़क के किनारे अपना सामान जमाकर खरीददारों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं। उनके इस दुकानदारी से आने-जाने वाले लोगों और वाहन चालकों को समस्या आ रही है। बता दें कि नगर निगम की दीवार से लगे खाली स्थान पर फुटपाथ व्यापारियों को हटाकर नाली की खुदाई की गई थी। लेकिन अडिग व्यापारी सड़क के किनारे लगी हुई मिट्टी ढेर पर ही अपनी दुकानें लगा रहे हैं।

सकरा है मार्ग

व्यंकट मार्ग शहर का सबसे पुराना मार्ग होने के कारण यह मार्ग सकरा भी है। जबकि आवागमन के हिसाब से उक्त मार्ग में वाहनों का दबाव रहता है। जिसके चलते हर पल सड़क में जाम की स्थिति बनी रहती है। वाहनों की लम्बी कतार जाम के चलते लग जाती है। तो वहीं जाम में फंसे वाहन चालकों को अपने वाहन निकालने में पसीना आ जाता है। सड़क को अतिक्रमण मुक्त बनाने और आवागमन सुगम बनाने के लिए यह कार्रवाई ननि और ट्रैफिक पुलिस संयुक्त रूप से चला रही है।

..........

अतिक्रमण हटाने और यातायात सुगम बनाने के लिए सड़क के किनारे व्याप्त अतिक्रमण को मुहिम चलाकर हटाने की कार्रवाई की जा रही है। उन्हें बराबर पनिसमेंट भी दिया जा रहा है।

-मनोज वर्मा, डीएसपी ट्रैफिक