हनुमना। नईदुनिया न्यूज

मैं भले ही कांग्रेस पार्टी में शुरू से ही रहा और सुंदर लाल रीवा जिले के सांसद भी रहे। लेकिन मैं जब विधायक बना और उनके साथ 5 वर्षों तक कार्य करने का मुझे मौका मिला, तब मैं उन्हें समझ पाया। वे सदा ही मुझे बहुत ही संबल देते थे, वहीं समय समय पर आने वाली हर परिस्थितियों में मार्गदर्शन भी करते थे। वे अगर अभी कम से कम 10 वर्षों तक और जीवित रहते तो निश्चित ही इस क्षेत्र को बहुत कुछ लाभ होता। उपरोक्त बातें स्थानीय स्वामी माधवाचार्य महाराज की तपस्थली रामलीला मैदान में आयोजित शोकसभा में पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह ने कही।

उल्लेखनीय है कि पूर्व सांसद व पूर्व विधायक सुंदर लाल तिवारी के गत दिवस हुए निधन पर हनुमना में आयोजित शोकसभा में भारी संख्या में उपस्थित लोगों के बीच श्री सिंह सहित अनेक राजनीतिक सामाजिक व स्वयंसेवी संगठनों से जुडे लोगों ने अपनी अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष रामरक्षा शुक्ल ने कहा कि श्री तिवारी का निधन कांग्रेस पार्टी के लिए अपूर्णीय क्षति है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता वीरेंद्र द्विवेदी ने कहा कि सुंदर भैया की कार्य शैली राजनीति में रहकर भी राजनीति से ऊपर उठकर हुआ करती थी। इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता राधारमण तिवारी, पन्नालाल गुप्ता, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रमेश जायसवाल, पार्षद सोनू गुप्ता, शुसील गुप्ता,ज्ञानदासगुप्त,दिब्यकांत त्रिपाठी, आदि ने भी अपने अपने विचार रखे।