Naidunia
    Sunday, April 22, 2018
    PreviousNext

    किसानों का आरोप

    Published: Thu, 15 Mar 2018 04:11 AM (IST) | Updated: Thu, 15 Mar 2018 04:11 AM (IST)
    By: Editorial Team

    किसानों का आरोपः बैंक और बीमा कंपनी कर रही गुमराह

    पांढुर्णा(निप्र)। ग्राम अंबाडा बाजार क्षेत्र के किसानों ने जिला कलेक्टर के अलावा स्थानीय प्रशासन को ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया की विगत दिनों प्राकृतिक आपदा के चलते क्षेत्र के खेतों में खड़ी गेहूं चना एव संतरा की फसल की बड़ी बर्बादी हुई है। जिसके कारण किसान आर्थिक बोज से दबा है। ग्राम अंबाड़ा क्षेत्र के 66 किसानों का सेन्ट्रल मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक शाखा अंबाडा में किसान क्रेडिट कार्ड धारकों का संतरा की फसल बीमा एचडीएफसी एग्रो ने सेन्ट्रल मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक शाखा में किया गया है। जिसका प्रीमियम बैंक द्वारा लिया गया है। जिसके बाद भी 66 किसानों का मुआवजे के लिए आज तक सर्वे नहीं हुआ है। इन बैंक प्रबंधकों द्वारा बीमा कंपनियों को सर्व के लिए नहीं कहा गया है। क्षेत्र के किसान बैंक की इस लापरवाही के कारण आक्रोशित है। जबकि समय रहते किसानों के खेतों का सर्वे नहीं किया गया तो क्षेत्र का पीड़ित किसान बैंक एव स्थानीय प्रशासन के विरुद्ध आंदोलन करने एवं कार्यालय का घेराव करने की रूपरेखा तैयार कर रहा है। किसान परवेज फारुकी, शशिकला पांसे, रमेश चौधरी, कुसुम मानमोड़े, सरजा वर्ठी शिवदास समपत देवलु, श्रीराम कोरड़े उपस्थित थे।

    ....................

    आशा कार्यकर्ताओं का आंदोलन तेज, ज्ञापन सौंपा

    फोटो : 30

    तामिया(निप्र)। पूरे प्रदेश में आशा कार्यकर्ताओं का आंदोलन जोरों पर है वही आंदोलन करने वाली आशा कार्यकर्ताओं को काम पर वापस लौटने का दवाब बनाया जा रहा है। बुधवार को आंदोलन के बीच एक बीमार कार्यकर्ता को बीएमओ द्वारा बिना इलाज किए भगाए जाने की घटना से आशा कार्यकर्ताओं का संघ खासा नाराज है। ग्रामीण इलाकों में प्रसव और टीकाकरण के कामकाज पूरी तरह से आशा कार्यकर्ताओं के भरोसे क्रियांवित होते है वही उनकी तकलीफ समझने वाला कोई नहीं है। अपनी मांगों को लेकर आशा तथा सहयोगिनी कार्यकर्ताओं का संगठन अपनी मांगों को लेकर गुरुवार से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर है वही तामिया में आशा सहयोगिनी कार्यकर्ता संघ ने अपनी मांगों को लेकर बीएमओ को ज्ञापन सौंपा। पहले से ही संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों अनिश्चितकालीन हड़ताल पर है, वही आशा व सहयोगी कार्यकर्ता सुपरवाइजर आशा कार्यकर्ता अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी हो गयी है। संघ की ब्लॉक संघ की अध्यक्ष नजमा जाफरी ने गुरुवार को आशा कार्यकर्ताओं के साथ बीएमओ डॉ विजय सिंह को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तामिया में ज्ञापन सौंपकर हड़ताल जारी रखने की जानकारी से अवगत कराते हुए ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में मासिक वेतन दस हजार व सहयोगी आशा कार्यकर्ता को बीस हजार का वेतन देने के साथ नियमितीकरण और मानदेय बढ़ाने की मांग दोहराई। आशा कार्यकर्ताओं के आंदोलन में स्वास्थ्य सुविधाएं बुरी तरह प्रभावित हो गयी है। ऐसे में इनका भुगतान ग्रामीण मरीजों को भुगतना पड़ रहा है।

    ......................

    मित्रता में अमीरी गरीबी का फर्क नहीं होता : रामगोपाल शास्त्री महाराज

    श्रीमद भागवत कथा में सुदामा चरित्र को सुनकर भावुक हुए श्रृद्धालुगण

    फोटो- 31

    तामिया(निप्र)। दीन सबन को लखत है दीनहि लखे ना कोय। जो रही दीनहि लखै, दीनबंधु सम होय अर्थात गरीब की दृष्टी सब पर पडती है पर गरीब को कोई नही देखता जो गरीब को प्रेम से देखता है उसकी मदद करता है वह दीनबंधु भगवान के समान हो जाता है। सुदामा चरित्र का बखान करते हुए श्रीमद भागवत कथा के दौरान वरदान आश्रम के पंडित रामगोपाल शास्त्री महाराज ने बताया कि द्वारकाधीश भगवान श्री कृष्ण ने अपने बालसखा के मिलने आने से पहले ही उनकी दरिद्रता का वरण कर लिया। अंजनिया जिला मंडला से पधारे रामगोपाल शास्त्री ने कहा संगीतमय श्रीमद भागवत कथा में अरे द्वारपालो,कन्हैया से कह दो,के दर पे सुदामा गरीब आ गया है, भटकते भटकते न जाने कहा से तुम्हारे महल के करीब आ गया है, के माध्यम से बालसखा सुदामा के आने की खबर पाते सुनंते ही भगवान कृष्ण अपने बालसखा से मिलने दौढे चले आए श्रीमदभागवत में परमपूद्यय श्रद्धेय पंडित रामगोपाल शास्त्री महाराज के मुखारविंद से सुदामा चरित्र की कथा सुनकर जहा सभी श्रृद्धालुगण भावुक हो गए। श्रीमदभागवत में परमपूद्यय श्रद्धेय पंडित रामगोपाल शास्त्री महाराज ने मित्रता का महत्व बताते हुए कहा कि कि भगवान के दरबार में गरीब और अमीर के बीच भेदभाव नहीं होता। भेदभाव सिर्फ हमारे विचारों में आता है। जब सुदामा पत्नी के कहने पर भगवान श्रीकृष्ण से मिलने गए तो वह अपनी व्यथा सुनाए बिना ही लौटने लगे तो भगवान श्रीकृष्ण नंगे पैर दौड़कर सुदामा के पास पहुंचे। श्रीकृष्ण ने सुदामा को गले लगा लिया। उनकी पोटली खोलकर दो मुट्ठी चावल खा लिए और उन्हें दो लोक दे दिए। उन्होंने गरीब और अमीर के बीच की दूरी को पाट दिया। नीलू महाराज भाग्य का उदय करने वाले संगीतमय श्रीमदभागवत ज्ञानयज्ञ मे सतत प्रवचन दे रहे है तामिया में श्रीमद भागवत कथा एंव मां कर्मा जयंती समारोह का आयोजन ओमप्रकाश साहू पप्पू कोकोनट कमलेश साहू कम्मू द्वारा कराया गया इस आयोजन में समस्त तहसील साहू समाज सहभागी रहा। 13 मार्च संत शिरोमणि मां कर्मा जयंती समारोह के बाद पूर्णाहूति भंडारा के साथ समापन कार्यक्रम हुआ।

    कर्मा जयंती पर युवाओं ने निकाली मोटर साइकल रैली

    धूमधाम से मनाई गई साहू समाज की आराध्य देवी मा कर्मा जयंती

    फोटो-32

    तामिया(निप्र)। मां कर्मा देवी जयंती महोत्सव का नगर मे खेड़ापति माता मंदिर के पीछे सांस्कृतिक कला मंच के पास भव्य आयोजन किया गया। नगर युवा एंव महिला साहू समाज द्वारा आयोजित मां कर्मा जयंती समारोह में शोभायात्रा पूजन कार्यम किया गया। कर्मा जयंती आयोजन समिति के अध्यक्ष महेश साहू ने बताया कि समस्त सामाजिक बंधुयो के सहयोग से तीसरे वर्ष भी भव्य आयोजन किया गया संत शिरोमणि मां कर्मा जयंती पर साहू समाज ने आराध्य देवी भक्त शिरोमणि मां कर्मा जयंती पर भव्य वाहन रैली निकाली वही रथयात्रा मे मा कर्मा की जीवंत झांकी का चल समारोह आयोजित हुआ। मां कर्मा देवी जयंती आयोजन में वाहन रैली मे अनेको युवाओ सहित सामाजिक बंधुयो ने भाग लिया श्रीमद भागवत कथा स्थल पर मां कर्मा का पूजन आरती का भव्य कार्यम चला देर शाम को आरती मे अनेको जन शामिल हुए गुरुवारशाम को भव्य भंडारे के साथ समापन हुआ । कमलेश साहू गेंदालाल साहू गोपाल साहू मनमोहन साहू महेश साहू संतोष साहू भागचंद साहू सुंदरलाल साहू भैयालाल साहू महेश साहू सारांश साहू अनिल साहू अंकित साहू महेंद्र साहू सुनील साहू विनोद साहू रद्यजू साहू हरभजन साहू प्रेमभान साहू सुरेश साहू नितिन साहू सहित अन्य समस्त सामाजिक बंधु दूर दूर से कार्यम में आकर सम्मिलित हुए।

    और जानें :  # rfUmtltuk fUt ythtuv
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें