भेल। नवदुनिया प्रतिनिधि

हिन्दी में कार्य करने का संदेश देने के लिए भेल कारखाने में एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। शनिवार को आयोजित कार्याशाला में 27 उपक्रमों के 58 प्रतिनिधियों को भेल मानव संसाधन के महाप्रबंधक एम ईसादोर ने कहा कि राजभाषा कार्य को और अधिक प्रभारी बनाती है। युवा वर्ग आगे आए। कार्यालयों में काम करने के दौरान हिंदी का इस्तेमाल करें। बोलचाल से लेकर लिखने में हिन्दी का प्रयोग करें।

कार्यक्रम में केंद्रीय भंडारण निगम से आए अभिषेक गुप्ता ने बताया कि कार्यालय में हिंदी में कार्य करना चाहिए। हमारे कार्यालय में हिंदी को बढ़ावा देने के लिए समय-समय पर बैठक की जाती है। हिन्दी के प्रचार-प्रसार के लिए कार्य किए जाते हैं। कार्यशलाा के पहले सत्र में मनोविज्ञान एवं तनाव प्रबंधन पर डॉ. विनय मिश्रा ने अपनी बात रखी। व्यक्ति की रोजमर्रा की परेशानियां जैसे वस्तुओं को गलत जगह पर रख देना या उनका गुम जाना निधार्रित तिथि के अनुसार कार्य करने की जिम्मेदारी, जाम में फंस जाना, वैवाहिक जीवन में मुश्किलों का सामना करना, विकलांग बच्चे को संभालना या गरीबी में रहना आदि विषयों पर विस्तार से बताया।