समाधान एक दिन योजना में सागर प्रदेश में दूसरे नंबर पर

- एक माह में 5455 आवेदनों में से 5345 प्रमाणपत्र वितरित किए

सागर। नवदुनिया प्रतिनिधि

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई समाधान एक दिवस सेवा की रैंकिंग जारी की गई है। रैकिंग में जनता के आवेदनों का एक दिन में निराकरण करने के मामले में सागर शहर के लोक सेवा केंद्र को प्रदेश में दूसरा स्थान मिला है। वहीं सीहोर प्रदेश में पहले नंबर पर आया है। इस योजना के शुरू होने से आवेदकों को बार-बार भटकने की झंझटों से मुक्ति मिली है।

लोकसेवा केंद्र पर 14 विभागों की 45 सेवाओं के संबंध में आवेदन करने पर एक ही दिन में उनका निराकरण किया जा रहा है। जिले में कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने पायलट योजना के रूप में 5 फरवरी को सागर में इसकी शुरूआत की थी। 5 फरवरी से 5 मार्च के बीच आए आवेदनों के निराकरण के आधार पर यह रैकिंग जारी हुई है। वहीं जिले के दूसरे लोक सेवा केंद्रों में सात मार्च 2018 से यह योजना शुरू की गई है। एक ही दिन में प्रमाण पत्र मिलने से सरकार की इस योजना से तहसीली में हफ्तों चक्कर काटने वाले लोगों को राहत मिली है।

अब तक 5345 आवेदनों का निराकरण

लोक सेवा प्रबंधक अभिनव जैन ने बताया कि अब तक 5455 आवेदन आए हैं, जिसमें से 5345 प्रमाणपत्र वितरित भी हो चुके हैं। इसमें से 1367 आवेदकों को वाट्सएप्प पर प्रमाणपत्र भेजे गए। लोक सेवा केंद्र में आय प्रमाणपत्र, मूल निवासी प्रमाणपत्र, लाड़ली लक्ष्मी, खसरा खतौनी संबंधी आवेदन प्रमुख हैं। समाधान ऑनलाइन एक दिन में तत्काल सेवा के तहत 14 विभागों की 45 सेवाओं को शामिल किया गया है। सामान्य प्रशासन, राजस्व, सामाजिक न्याय, श्रम विभाग, महिला एवं बाल विकास, गृह विभाग एवं परिवहन विभाग की महत्वपूर्ण सेवाओं के तत्काल आवेदन प्राप्त किए जाते हैं और प्राधिकृत अधिकारी द्वारा उक्त आवेदन का परीक्षण कर निराकरण प्रमाणपत्र स्वीकृति पत्र प्रदान किया जाता है।

.....................

फोटो 1403 एसए 24- सागर। तहसीली परिसर में संचालित लोकसेवा केंद्र।

-----------------