सागर/ देवरीकलां। नवदुनिया प्रतिनिधि

सहकारी समितियों द्वारा किसानों की फसलों के हो रहे पंजीयन में गड़बड़ी के बाद उसका सत्यापन करने पर देवरी एसडीएम राकेश मोहन त्रिपाठी ने एक पटवारी को निलंबित कर दिया है। वहीं सेल्समैन के विरुद्घ भी कार्रवाई के लिए कलेक्टर आलोक कुमार सिंह को प्रस्ताव भेजा है। जानकारी के अनुसार देवरीकलां के सेल्समैन सुतकुमार उपाध्याय ने देवरीकलां सोसायटी में अपने नाम से जो पंजीयन कराया, उसमें 14 हेक्टेयर जमीन दर्ज कराई। सेल्समैन ने केसली के मदनी और छिंदली में जमीन होना बताया, लेकिन जब जांच कराई गई तो उसके नाम से जुड़ी कोई जमीन वहां नहीं थी। समर्थन मूल्य एवं भावांतर योजना के अंतर्गत किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए सहकारी समितियों को पंजीयन का काम सौंपा था जिसका सत्यापन पटवारी द्वारा कराया गया था।

पटवारी सस्पेंड सेल्समैन पर भी होगी कार्रवाई

जांच के दौरान एसडीएम राकेश मोहन त्रिपाठी ने पटवारी नंदकिशोर हल्का नंबर 49 कुसमी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। वहीं सेल्समैन सुतकुमार उपाध्याय और संबंधित प्रबंधक के खिलाफ प्रस्ताव बनाकर कलेक्टर को कार्रवाई के लिए भेजा है। जानकारी के अनुसार संबंधित सेल्समैन प्रबंधक और पटवारी की मिलीभगत से एक ऐसे किसान के नाम पर जमीन का पंजीयन किया गया जिसके नाम पर वास्तविकता में बिल्कुल भी जमीन नहीं थी जिसकी शिकायत के बाद कार्रवाई की गई। इस कार्रवाई के बाद पंजीयन व्यवस्था और प्रभारियों की कार्यप्रणाली को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं। देवरी एसडीएम राकेश मोहन त्रिपाठी ने बताया कि सेल्समैन के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है। इस संबंध में प्रतिवेदन बनाकर कलेक्टर के लिए भेज दिया है।