पेज- 13

-----------------------

- कलेक्टर की अनुशंसा पर कमिश्नर ने की प्राचार्य के खिलाफ कार्रवाई

सागर/रहली। नवदुनिया प्रतिनिधि

शासकीय कृषि उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रहली के प्राचार्य एवं परीक्षा प्रभारी आरपी उपाध्याय द्वारा अपने पुत्र व उसके एक मित्र को बंद कमरे में नकल कराने के मामले में कमिश्नर मनोहर दुबे ने उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। यह मामला सामने आने के बाद कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने अनुशंसा सहित एक प्रस्ताव कमिश्नर श्री दुबे को भेजा था, जिससे सहमत होकर यह कार्रवाई की गई है।

जानकारी के अनुसार 1 जून 2018 को शासकीय कृषि उमावि रहली में पदस्थ प्राचार्य व परीक्षा प्रभारी आरपी उपाध्याय पर राष्ट्रीय विद्यालयीन परीक्षा 2018 में डीएलएड परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्र में बंद कमरे में अपने पुत्र चंचल उपाध्याय एवं उसके साथी भास्कर पिता सूर्यप्रकाश को नकल कराने के आरोप थे। इस मामले की जांच कराने के बाद उनके पूर्णतः उत्तरदायी होने के कारण कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने उपाध्याय के खिलाफ निलंबन का प्रस्ताव भेजा गया था।

कमिश्नर श्री दुबे ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इस पद का दुरुपयोग माना है और उन्होंने इस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए आदेश भी जारी कर दिए हैं। इस मामले में कमिश्नर श्री दुबे ने कलेक्टर सागर के अभिमत से सहमत होकर उपाध्याय को तत्काल निलंबित कर दिया है। उन्हें जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी। निलंबन काल में उनका मुख्यालय जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय सागर रहेगा। आरपी उपाध्याय के पास बीईओ का भी चार्ज था। अब इन दोनों पदों का प्रभार गढ़ाकोटा प्राचार्य इंदुनाथ तिवारी को दिया गया है.