बीना खुरई पेज की लीड ..

- ब्लॉक की कई स्कूलों का होना है संविलियन, इस माह से लागू है एक शाला एक परिसर का नियम

बीना। नवदुनिया न्यूज

एक शाला एक परिसर को लेकर राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा दिए गए आदेश पर बैंक खातों का एकीकृत नहीं होना भारी पड़ रहा है। सभी स्कूलों के बैंक खाते अलग-अलग होने और अभी तक एक खाते के रूप में एकीकृत नहीं होने के कारण यह नियम लागू नहीं हो पा रहा है। आदेश लागू करने को लेकर एक्सीलेंस स्कूल में सभी प्रभारियों की मीटिंग ली गई।

ब्लॉक की 61 शालाओं को एक शाला एक परिसर अभियान के तहत आपस में संविलियन किया जाना है। लगभग सारी औपचारिकताएं पूरी होने के बाद भी यह अभियान अटका हुआ है। मर्जर में आने वाली परेशानियों को देखते हुए एक्सीलेंस स्कूल प्राचार्य, बीईओ, बीआरसीसी द्वारा सभी शाला प्रभारियों की मीटिंग ली गई। मीटिंग में स्कूल प्रभारियों ने बताया कि जिस परिसर में तीन शालाएं हैं उन सभी के अलग-अलग बैंक खाते हैं। अब खातों को आपस में एकीकृत नहीं हो पा रहा है। इस कारण यह आदेश अटका हुआ है। बीईओ दिनेश यादव ने बताया कि विद्यालयों के एकीकरण होने की स्थिति में शाला प्रबंध परिपद का गठन होगा। इसमें प्रत्येक स्कूल की शाला प्रबंधन समितियों के सदस्य शामिल होंगे। हायर सेकंडरी या हाईस्कूल का प्राचार्य सचिव होगा। हर तीन माह में उस समिति की बैठक आयोजित करनी होगी। एक परिसर एक शाला विद्यालय के एक खाते का संचालन 1 अक्टूबर 2018 से अनिवार्यतः किया जाना है। लेकिन जिन शालाओं के नहीं हो पाए हैं वह अगले दो दिनों में आवश्यक रूप से कर लें।

इन शालाओं का होना है एकीकरण

जानकारी अनुसार करोंदा हाईस्कूल, मिडिल स्कूल, प्राइमरी स्कूल, विल्धव मिडिल, प्राइमरी स्कूल, कंजिया हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी, गिरोल हाईस्कूल, मिडिल और प्राइमरी, हिन्नौद हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी, बेसरा हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी स्कूल, सिरचौंपी में मिडिल और प्राइमरी, आगासौद में मिडिल और प्राइमरी, किर्रोद में मिडिल और प्राइमरी स्कूल, सेमरखेड़ी में मिडिल और प्राइमरी, निवोदा में मिडिल और प्राइमरी, भानगढ़ में हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी स्कूल, बिहरना में हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी, पड़रिया में हाईस्कूल, मिडिल और प्राइमरी, कोंरजा में हायर सेकंडरी, मिडिल, प्राइमरी स्कूल, पार में हाईस्कूल, मिडिल, गढ़ा में मिडिल और प्राइमरी, सनाई में हायर सेकंडरी, मिडिल और प्राइमरी, गौहर में हाईस्कूल, मिडिल और प्राइमरी, मंडीबामोरा में हायर सेकंडरी स्कूल, प्राथमिक, दो मिडिल स्कूल, कन्या इटावा में हायर सेकंडरी, मिडिल, दो प्राइमरी, नानक वार्ड में मिडिल और प्राइमरी, एक्सीलेंस स्कूल में हायर सेकंडरी और मिडिल स्कूल, ढुरुआ में मिडिल और प्राइमरी, खजुरिया में मिडिल और प्राइमरी, देवल में मिडिल और प्राइमरी, चमारी में हाईस्कूल और मिडिल स्कूल को एकीकृत किया जाना है।

स्टाफ की कमी दूर होगी

एक शाला एक परिसर से स्टाफ की कमी दूर हो जाएगी। बिल्डिंग की कमी और साधनों की कमी भी दूर होगी। एक प्रबंधन होने से विकास और अन्य आवश्यकताओं पर भी केंद्रीकरण रहेगा।

1310 एसजीआर 145 बीना। एक शाला, एक परिसर से संबंधित मीटिंग लेते अधिकारी।