मुरैना। सिविल लाइन थाना क्षेत्र के तहत नेशनल हाइवे क्रमांक 3 पर वन विभाग का चेक पोस्ट स्थित है। देर रात पोस्ट से गुजर रहे रेत माफिया ने यहां तैनात एक वनकर्मी पर कट्टे से फायर कर दिया। वनकर्मी ने चौकी में छिपकर अपनी जान बचाई। इसके बाद भी माफिया लगातार चौकी पर पथराव करता रहा। वन अधिकारियों को सूचना देने के बाद भी सुबह तक कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा।

बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात वनकर्मी सूबेदार सिंह कुशवाह एसएएफ के दो जवानों के साथ वन चौकी पर तैनात थे। श्री कुशवाह ने बताया कि रात को करीब 3 बजे लगभग 50 ट्रैक्टर्स का एक समूह उन्हें चौकी की ओर आता दिखा। इस पर श्री कुशवाह ने नाके पर रखी हुई लोहे की पंक्चर प्लेट्स सड़क पर बिछा दीं। इसी बीच माफिया के वाहनों के साथ चल रहे दो बाइक सवार रुके और प्लेट्स को उठाकर ट्रॉलियों में डालने लगे।

जब वनकर्मी ने इसका विरोध किया तो एक आरोपी ने अपने पास मौजूद कट्टे को निकाला और सीधे वनकर्मी की ओर फायर करते हुए कहा कि हट जा नहीं तो जान से मार दूंगा। इसके बाद वनकर्मी पास ही में बनी चौकी के भीतर जाकर छिप गए। इस दौरान रेत के ट्रैक्टरों पर सवार माफिया के लोगों ने ट्रैक्टरों का जत्था निकल जाने तक चौकी पर पत्थर बरसाए।

अधिकारी बोलने को तैयार नहीं

वनकर्मी द्वारा अधिकारियों को घटना की जानकारी दी गई, लेकिन अधिकारियों ने इस मामले में मीडिया से दूरी बना रखी है। खुद डीएफओ डॉ. एए अंसारी के शासकीय फोन नंबर 9424791800 पर कॉल किए गए, लेकिन उन्हाेंने कॉल रिसीव नहीं किए।