सतना। आपके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट है, थाने चलिए। पुलिस की वर्दी पहन लोगों के घर जाकर रुपए ऐंठने वाले चार नकली पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार किया गया है। ये चारों सिहोर जिले के कोनाही गांव के हैं। आरोपियों के पास से कुछ कागजात भी जब्त किए हैं।

इसके अलावा पुलिस ने इनकी इंस्पेक्टर, हवलदार और सिपाही की नकली वर्दियां उतरवाकर जब्त कर ली है। चारों से पूछताछ की जा रही है।

बुधवार की सुबह टिकुरिया टोला इलाके से कोलगवां थाने में फोन आया कि पुलिस वर्दी में चार व्यक्ति घर-घर जाकर लोगों को धमकाकर जबरन रुपए ऐंठ रहे हैं। पुलिस टिकुरिया टोला में दबिश देकर नकली पुलिस वर्दी में अवैध वसूली करते चार आरोपियों को गिरफ्तार कर थाने ले आई।

चारों से कड़ाई से पूछताछ की जा रही है। पकड़े गए आरोपी आजाद (18) पिता शंकर नाथ, रमेश (25) पिता गौरी नाथ , धर्मेन्द्र (27) पिता शंकर नाथ एवं कैलाश (40) पिता बापू नाथ हैं। ये सभी आरोपी सीहोर जिले के कोनाही गांव के हैं। इनका सरगना कैलाश नाथ है। यही अपने साथियों को नकली पुलिस वर्दी की धौंस जमा कर लोगों से रकम ऐंठने की सलाह देता था।

पांच से दस हजार ऐंठते थे

पुलिस वर्दी में घर पहुंचे इन बहुरुपियों को देखकर लोग डर जाते थे। सभी आरोपी लोगों को अपनी बातों से गुमराह करके इस कदर अपने जाल में फंसा लेते थे कि लोगों को इनके सामने मजबूरन गिड़गिड़ाना पड़ता था। जब उन्हें पता चलता कि अब आसानी से रुपए मिल सकते हैं तो वो लोग रुपए की मांग करने लगते थे।

आरोपी लोगों से मामले को थाने के बाहर ही निपटाने की बात कहते थे। इसके बाद ये जालसाज रुपए लेकर वहां से फरार हो जाते। ये लोगों से पांच-दस हजार रुपए की मांग करते थे। जब लोग इतना रुपए देने से इंकार करते तो ये लोग सौ-दो सौ रुपए ठगकर फुर्र हो जाते थे। आरोपियों के दर्ज कराए गए नाम, पता, ठिकाना की पुष्टि की जा रही है।