- पारस बिहार कॉलोनी की महिलाओं ने डॉ. आनंद शर्मा पर कार्रवाई करने दिया आवेदन।

- डॉक्टर को पीटने के मामले में एक महिला सहित आधा दर्जन लोगों पर मामला दर्ज।

फोटो 24 सीहोर। पारस बिहार कॉलोनी की महिलाओं ने डॉ. आनंद शर्मा पर कार्रवाई करने दिया आवेदन।

सीहोर। शनिवार को शहर की सबसे पॉश कॉलोनी पारस बिहार में प्रभारी डीएचओ डॉ.आनंद शर्मा को उन्हीं के निवास पर कॉलोनी के लोगों ने एक महिला डॉक्टर के साथ पकड़ा था। इसके बाद कॉलोनीवासियों ने डॉक्टर शर्मा और महिला डॉक्टर के पति को जमकर पीटा था और पुलिस के हवाले कर दिया था। शनिवार देर रात कोतवाली पुलिस ने डॉक्टर के साथ मारपीट करने वाले आधा दर्जन लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला कायम कर लिया था। वहीं रविवार को दोपहर में पारस विहार कॉलोनी की एक दर्जन से अधिक महिलाएं व पुरुष थाना कोतवाली पहुंचे और डॉक्टर शर्मा पर अनेक गंभीर आरोप लगाते हुए उन पर कार्रवाई करने की मांग कर आवेदन पत्र सौंपा। इसके अलावा भी बड़ी संख्या में कॉलोनी के रहवासी कोतवाली पहुंचे और डॉ. शर्मा पर अनैतिक कृत्यों में लिप्त रहने का आरोप लगाते हुए फिर आवेदन सौंपा है। इस मामले में थाना प्रभारी मनोज मिश्रा का कहना है कि कॉलोनीवासियों के आवेदन की जांच की जा रही है। जांच के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि शनिवार की दोपहर स्थानीय थाना कोतवाली अंतर्गत पारस कालोनी में रहने वाले जिला अस्पताल में पदस्थ प्रभारी डीएचओ डॉ. आनंद शर्मा के साथ कॉलोनी के लोगों ने उनके घर पहुंच कर मारपीट की थी। कालोनीवासियों का कहना था कि डॉ. शर्मा आए दिन अपने घर में महिलाओं को बुलाते हैं। शनिवार को भी उनके निवास पर एक महिला डॉक्टर थी। इससे पूर्व जब चिकि त्सक डॉ. शर्मा और उक्त महिला चिकि त्सक घर के अंदर थे तब कॉलोनी के लोगों ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया था। लंब समय चले इस हंगामे दौरान कॉलोनी के लोगों ने डॉ. शर्मा के साथ मारपीट भी की थी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस डॉ. शर्मा और महिला डॉक्टर को कोतवाली थाने लाई थी। बताया जाता है कि महिला डॉक्टर के परिजन अच्छी राजनैतिक पकड़ रखते हैं।

जिला अस्पताल के डॉक्टर शर्मा के बचाव में पहुंचे थाने

इस मामले में शनिवार की रात 9.30 बजे तक कि सी के खिलाफ प्रकरण दर्ज नहीं हो सका था। इसके बाद जिला अस्पताल में पदस्थ अधिकांश चिकि त्सक व डॉ. शर्मा की पत्नी व अन्य लोगों के साथ कोतवाली पहुंचे और डॉक्टर शर्मा के साथ मारपीट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करने लगे। साथ ही कार्रवाई करने के बाद आरोपितों को 24 घंटे के अंदर नहीं पकड़ने पर हड़ताल की चेतावनी दी थी। पुलिस ने कॉलोनी के रहवासी सोनू राठौर, दीपक बेलानी, राजा कु शवाह, नीरज भगत, पंकज व अभिषेक राठौर के खिलाफ भादंवि की धारा 452, 294, 323, 506, 34 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया। वहीं आरोपितों की तलाश भी शुरू कर दी है।

हमला करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग

जिला चिकि त्सालय में पदस्थ एक वरिष्ठ डॉक्टर और महिला चिकि त्सक के पति पर जान लेवा हमला करने वाले कॉलोनी के कु छ गुंडा प्रवृत्ति के तत्वों द्वारा बदनाम करने की कोशिश की गई है। इसको लेकर डॉ. एसोसिएशन ने निश्चिय कि या है कि दो दिन में यदि इन गुंडा प्रवृत्ति के लोगों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर शासन, प्रशासन द्वारा कार्रवाई नहीं की गई। तो जिले के सभी के मिस्ट, पैथोलॉजी अनिश्चित काल के लिए अपनी संस्था बंद करेंगे।