सीहोर (ब्यूरो)। भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि इस समय जो प्रत्याशी खड़ा किया है, उसने 16 साल पहले 10 साल तक शासन किया। इस दौरान कर्मचारियों को नौकरियों से निकाल दिया। भ्रष्टाचार किया। पापाचार किया। रोड में गड्ढे बनाए और अंधेरा दिया। सीहोर की पांच फैक्टरियां बंद कराईं और लोगों को बेरोजगार कर दिया। खुद का व्यवसाय बढ़ाया। 16 साल पहले संन्यासी उमा दीदी ने इसे हराया था। तब से मुंह नहीं उठा पाया था। अब ऐसे आतंकी को समाप्त करने के लिए फिर से एक संन्यासी को आना पड़ा।

साध्वी प्रज्ञा गुरुवार को यहां चुनाव कार्यालय के शुभारंभ अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने आतंकी कहने में किसी का नाम नहीं लिया। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद को खत्म करने के लिए सर्जिकल और एयर स्ट्राइक कर दी। अब भगवा और हिंदुत्व को आतंकवाद कहने वाले यह जो सूत्रधार हैं, मप्र की भूमि पर अब ऐसे सूत्रधार न उगें। जो उगे हैं, उनको कैसे खत्म करना है यह हमारे मतदाता बहुत अच्छे से जानते हैं और वे यह करके भी दिखाएंगे। मप्र में कोई ऐसा सूत्रधार पैदा न हो पाए, जो भगवा आतंकवाद और हिंदुत्व का आतंकवाद कह लें। आप को पता होगा, जब धर्म पर अधर्म का कुठाराघात होने लगता है तो साध्वी को तप तपस्या से हटकर सत्ता संभालनी पड़ती है।

कलेक्टर से तलब की रिपोर्ट

इधर, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने साध्वी प्रज्ञा के इस बयान पर सीहोर के जिला निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट तलब की है।

सांसद ने भी बोले अशोभनीय शब्द

इस मौके पर क्षेत्रीय सांसद आलोक संजर ने कहा कि आप के बीच साध्वी प्रज्ञा दीदी आई हैं। जिन्हें एक साल या दो साल नहीं, बल्कि (अभद्र शब्द का उपयोग) ने 9 साल तक जेल में रखा। भाजपा नेतृत्व ने अब उन्हें प्रत्याशी बनाकर सम्मान दिया है।