- पॉलीटेक्निक कॉलेज और आईटीआई परिसर में लगाए हाई क्वॉलिटी के कै मरे

- स्ट्रांग रूम व कॉलेज को चारों ओर से घेरा

शाजापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

विधानसभा चुनाव के मतगणना स्थल पॉलीटेक्निक कॉलेज व आईटीआई ग्राउंड में 11 दिसंबर को इस तरह का सुरक्षा घेरा रहेगा कि वहां यदि कि सी परिंदे ने भी पर मारा तो वो भी 'तीसरी नजर' से बच नहीं पाएगा। दोनों स्थानों पर 60 से अधिक सीसीटीवी कै मरे लगेंगे, जो स्ट्रांग रूम, काउंटिंग हॉल, परिसर से लेकर कॉलेज के चारों कोने और आईटीआई परिसर की एक-एक जगह को कवर करेंगे। कै मरे लगाए जाने का काम तेजी से चल रहा है। इधर, स्ट्रांग रूम के बाहर कांग्रेस व निर्दलीय प्रत्याशी भी दिन-रात बीता रहे तो प्रशासनिक अधिकारी भी सुबह-शाम निरीक्षण कर रहे हैं।

फिलहाल पॉलीटेक्निक कॉलेज में प्रशासन ने लगभग 40 कै मरे लगाए हैं, जो स्ट्रांग रूम, काउंटिंग हॉल, प्रत्येक कक्ष, परिसर सहित सभी स्थानों को कवर कि ए हुए हैं। इनके जरिए एक जगह से नजर रखी जा रही है। इसके अलावा 11 दिसंबर को मतगणना को लेकर भी सीसीटीवी कै मरों की मदद सुरक्षा व अन्य व्यवस्थाएं बनाने के लिए की जाएगी। ये कै मरे आईटीआई परिसर, कॉलेज के सामने से गुजरी विजयनगर रोड, कॉलेज के भीतर और बाहर के छुटे हुए स्थानों को कवर करेंगे। आईटीआई ग्राउंड में नागरिकों को परिणाम जानने के लिए व्यवस्था की गई है। दो स्तर पर बेरिके टिंग की है। ताकि भीड़ को संभाला जा सके ।

विवाद होता है तो चेहरे होंगे कै मरों में कै द

जानकारी के अनुसार कॉलेज व आईटीआई ग्राउंड में 20 से 22 कै मरे और लगाए जा रहे हैं। इसके बाद ऐसा कोई स्थान नहीं बचेगा, जो इनकी कै द में नहीं होगा। सुरक्षा के साथ ही ऐसे चेहरे जो काउंटिंग वाले दिन विवाद कर सकते हैं या करेंगे, उनके चेहरे कै मरों में कै द हो जाएंगे। प्रशासन का भी यही मकसद है। इसके अलावा एबी रोड पर पुलिस के कै मरे पहले से लगे हैं। समझा जा सकता है कि उत्पात या विवाद करने वालों को नहीं बख्शा जा सके गा।

स्ट्रांग रूम की कड़ी सुरक्षा

इधर, कॉलेज में बने स्ट्रांग रूम की सुरक्षा कड़ी है। सीआईएसएफ के जवान तैनात होकर हर हरकत पर नजर रखे हुए हैं। मुख्य गेट पर ही बंकर बनाया गया है। जहां 24 घंटे ही जवान तैनात रहते हैं। इसके अलावा कॉलेज परिसर व स्ट्रांग रूम के बाहर सशस्त्र जवान तैनात हैं। कांग्रेस एवं निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थक दिन-रात पहरा दे रहे हैं।