सेकंड लीड----

-गुरुवार को भी कुछ क्षेत्रों में दोपहर तो कुछ में रात तक आए नल

आगर-मालवा। नईदुनिया न्यूज

शहर की एक चौथाई आबादी के छावनी क्षेत्र में जलप्रदाय व्यवस्था गत सप्ताह से गड़बड़ाई हुई है। जो नपा द्वारा किए जा रहे वैकल्पिक उपाय के बावजूद सुधर नहीं पा रही। गुरुवार को भी नल सुबह के बजाय दोपहर तक कुछ वार्डों के मोहल्लों में आधा घंटे चले। कई वार्डों के मोहल्लों में रात तक नलों से पानी की सप्लाई नहीं की जा सकी। जलप्रदाय एक दिन छोड़कर किया जाता है। ऐसे में छावनी क्षेत्र के लोग अधिक परेशान हो रहे हैं।

नगर में नलों से जलप्रदाय के लिए प्रतिदिन 25 लाख लीटर पानी की जरूरत होती है। करीब 12 लाख लीटर पानी टिल्लर डेम पर नपा की बनी पेयजल आवर्धन योजना से पाइप लाइन द्वारा आगर में आता है। इधर परंपरागत स्रोतों में पानी की कमी के कारण दिक्कत पूरे शहर में अप्रैल की शुरुआत से होने लगी। इस बीच टिल्लर डेम में डेड स्टोरेज का जमा पानी पेयजल योजना के अंतर्गत बने सम्पवेल से दूर चला गया। ऐसे में करीब 6-7 दिन तक वहां से पानी नहीं मिला। जिस कारण व्यवस्था और गड़बड़ा गई। छावनी क्षेत्र एवं 1 किलोमीटर की परिधि में स्थित बड़ा गवलीपुरा, झींगाखो, कुम्हार पुरा, एवं फूलमालीपुरा के रातड़िया रोड वाले हिस्से शहर क्षेत्र में आते हैं। यहां भी जलप्रदाय गांधी उपवन छावनी के जलप्रदाय केन्द्र से किया जाता है। इस प्रदाय केन्द्र से सप्लाई के लिए करीब साढ़े 6 लाख लीटर पानी रोज लगता है। इस क्षेत्र के परंपरागत स्रोतों ने साथ छोड़ दिया। इससे पानी का संग्रह कम होने लगा जिसके मद्देनजर नगर पालिका ने टिल्लर डेम योजना के अंतर्गत प्रावधान अनुसार छावनी प्रदाय केन्द्र की टंकी को टिल्लर डेम की पाइप लाइन से जोड़ा। टिल्लर डेम से रुकी पड़ी सप्लाई मंगलवार रात को पुनः शुरू हुई। छावनी क्षेत्र की टंकी भरने के लिए टिल्लर की पाइप लाइन जो हाल ही में जोड़ी गई है। उससे पानी की सप्लाई बुधवार रात को शुरू की गई किन्तु थोड़ी देर चलने के बाद ही इससे पानी मिलना बंद हो गया। यही वजह रही कि गुरुवार को छावनी क्षेत्र में जलप्रदाय व्यवस्था और अधिक गड़बड़ा गई। नपा अध्यक्ष प्रतिनिधि पिन्टू जायसवाल ने बताया कि टिल्लर डेम की पाइप लाइन से छावनी के प्रदाय केन्द्र की टंकी का कनेक्शन जोड़ा गया। किन्तु किसी तकनीकी खराबी से पानी नही पहुंच पा रहा है। ऐसी स्थिति में जब तब लाइन से पानी मिलना शुरू नहीं हो जाता टैंकरो द्वारा छावनी के जलप्रदाय केन्द्र की टंकी को भरकर इस क्षेत्र की सप्लाई व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त शीघ्र की जाएगी।