Naidunia
    Thursday, April 19, 2018
    PreviousNext

    'दुनिया से उठा दूंगा' पर सियारस गरमाई, कांग्रेस ने फूंके पीएम-सीएम और सांसद के पुतले

    Published: Mon, 16 Apr 2018 08:47 PM (IST) | Updated: Mon, 16 Apr 2018 08:47 PM (IST)
    By: Editorial Team

    - मुख्यमंत्री के जाते ही कांग्रेस ने फूंके पुतले, नारेबाजी भी की

    शाजापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    सांसद मनोहर ऊंटवाल के कथित 'दुनिया से उठा दूंगा' बयान पर सियासत गरमा गई है। सोमवार को बयान के विरोध में कांग्रेस सड़क पर उतरी और पीएम, सीएम व सांसद के पुतले फूंक डाले। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में लगी पुलिस को पुतले फूंकने की भनक नहीं लगी। हालांकि मुख्यमंत्री के जाने के बाद कांग्रेसियों ने पुतले फूंके। अभा कांग्रेस सदस्य नरेश कप्तान ने सांसद की टिप्पणी पर कहा कि पीएम-सीएम के पुतले फूंके हैं। अब सांसद हमें दुनिया से उठाकर दिखाएं।

    जिले के पोलायकलां में किसान सम्मान यात्रा के दौरान सांसद एवं भाजपा प्रदेश महामंत्री ऊंटवाल का बयान आया था। जिसमें वे कहते दिखे थे कि कोई भी कांग्रेसी यदि पीएम और सीएम के खिलाफ कुछ भी बोलेगा तो दुनिया से उठा दूंगा। हालांकि सोमवार को ही सांसद ने अपने बयान का खंडन किया और बयान को तोड़-मरोड़कर प्रस्तुत करने की बात कही। इधर, सांसद के बयान से खफा अभा कांग्रेस सदस्य कप्तान व उनके समर्थकों ने शाम को बस स्टैंड पर पहुंचकर सांसद समेत पीएम व सीएम के पुतले भी फूंक डाले। बकायदा ढोल के साथ पुतलों को बस स्टैंड ले जाया गया। जहां नारेबाजी कर उन्हें फूंका गया। कप्तान ने कहा कि सांसद ने इस तरह के बयान देकर लोकतंत्र की हत्या की है। इसलिए सांसद का पुतला फूंका है।

    देवास में भी बयान दे चुके सांसद

    पोलायकलां से पहले सांसद देवास में भी आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुके हैं। उन्होंने पूर्व सीएम दिग्विजयसिंह को लेकर विवादित बयान दिया था। इसके बाद शाजापुर विधायक अरुण भीमावद भी सीएम को भगवान का 25वां अवतार बताकर सुर्खियों में आए थे।

    बॉक्स लगाएं...

    सांसद के बयान पर मुख्यमंत्री की चुप्पी, शाम को आया सांसद का खंडन

    शाजापुर में किसान महासम्मेलन में शामिल होने आए मुख्यमंत्री चौहान से जब सांसद के बयान को लेकर सवाल पूछा तो वे कुछ नहीं बोले। इसके बाद शाम को सांसद ऊंटवाल का खंडन आया। अपने बयान को लेकर सांसद ऊंटवाल ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि कांग्रेस के नेताओं के पास कोई काम नहीं है। मप्र में मुद्दाविहीन कांग्रेस अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए इस तरह के हथकंडों का इस्तेमाल कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करना चाहती है। कांग्रेसी और उनके सहयोगी बयानों को पूरा सुने और समझे बिना तोड़-मरोड़कर जनता को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। जनता इनके भुलावे में आने वाली नहीं है। वर्ष 2018 और 2019 दोनों चुनाव में कांग्रेस का फिर से सफाया होगा। सांसद व प्रदेश महामंत्री ऊंटवाल ने कहा कि कांग्रेसी अपने कुछ समर्थकों के माध्यम से समाज के अंदर यह भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। मैंने कभी किसी भी प्रकार की हिंसा का समर्थन नहीं किया। साथ ही लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान भी नहीं है। राजनीतिक क्षेत्र में मिटाने और गायब करने से तात्पर्य राजनीतिक रूप से समाप्त करना है और हम हमारे विश्व के सबसे बड़े राजनीतिक दल भाजपा के माध्यम से कांग्रेस मुक्त भारत का संकल्प साकार कर ही रहे हैं। देश में प्रधानमंत्री और प्रदेश में मुख्यमंत्री श्रेष्ठ कार्य कर रहे हैं। मैंने कहा था कि ऐसे विकासशील व्यक्तियों के विरोधियों को हम, जनता और पार्टी के दस करोड़ से अधिक कार्यकर्ता ही राजनीतिक नक्शे से गायब कर देंगे।

    और जानें :  # SHAJAPUR. PUTLA DAHAN. NEWS
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें