बड़ौदा। नईदुनिया न्यूज

परिजनों के देहांत के बाद होने वाले नहान के कार्यक्रम में महिलाओं सार्वजनिक रुप से खुले में नहाने पर जो शर्मिंदगी उठानी पड़ती थी वह अब नहीं उठानी पड़ेगी। नगर परिषद बड़ौदा ने इसकी चिंता करते हुए वार्ड क्रं. 11 व 15 में नहान के लिए स्नानघर बनाने का निर्णय लिया हैं। करीब 12 लाख रुपए लागत से निर्मित होने वाले इस स्नानघरों के निर्माण के लिए शुक्रवार को नगरपरिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि रितेश तोमर ने भूमिपूजन कर निर्माण की शुरुआत कर दी।

बड़ौदा में नदी व दूसरे ऐसे स्थान नहीं होने से व चन्द्रसागर में पानी की कमी से नहान के लिए नगर परिषद संबंधित के घर पानी का टैंकर भेज देती थी। टैंकर के माध्यम से सड़क पर ही लोग स्थान करते चले आ रहे हैं। पुरुषों को तो खुले में स्नान करने में ज्यादा परेशानी नहीं आ रही हैं अलबत्ता महिलाओं को जरुर सार्वजनिक रुप से स्नान करने और गीले कपड़ों में घर तक जाने में शर्मसार होना पड़ रहा हैं। मां-बहनों की इस परेशानी को नगरपरिषद अध्यक्ष भारती तोमर और उनकी परिषद ने भलीभांति समझते हुए इस पर गंभीरता से विचार कर नगर में दो स्थानों पर सार्वजनिक स्नानघर बनाने का निर्णय लिया है। वार्ड क्रं. 11 व 15 में पानी की टंकी के पास महिला व पुरुषों के लिए अलग-अलग स्नानघर बनाए जाएंगे। इसका भूमिपूजन नगरपरिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि रितेश तोमर ने नींव खोदकर किया। इस दौरान सब इंजीनियर विवेक अग्रवाल, उपाध्यक्ष प्रतिनिधि रामस्वरुप पांचाल, महावीर नागर, मुरारी प्रजापति, भारत भूषण, धनराज माहौर, विष्णु पंडित, लक्ष्मण शर्मा, रामू पांचाल, रवि आर्य आदि मौजूद थे।

फोटो : 06

कैप्शन : सार्वजनिक स्नानघर की नींव खोदकर शुभारंभ करते रितेश तोमर।