कराहल। नईदुनिया न्यूज

सूखे का प्रकोप कराहल में भयावाह स्थिति में पहुंच गया हैं। शासन और प्रशासन के पास कोई ठोस योजना नहीं है। पानी की कमी से ग्रामीणों का पलायन लगातार जारी है। खराब पड़े हैंडपंपों को पीएचई सुधारने के बजाए टाल-मटोल कर रही है। यह आरोप विजयपुर विधायक रामनिवास रावत ने कराहल क्षेत्र में भ्रमण के दौरान समस्याएं बताते हुए कहीं।

तीन दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम के तहत विधायक श्री रावत गुरुवार को बासरैया, बांसेड़, रेशमपुरा कॉलोनी, सेसईपुरा, रानीपुरा, कटीला-कपीला सहित एक दर्जन गांवों में पहुंचकर ग्रामीणों से रुबरु हुए। अधिकतर गांवों में पेयजल संकट देखने को मिला। विधायक श्री रावत ने मौके पर ही मोबाइल से पीएचई अधिकारियों को पेयजल संकट हल करने के निर्देश दिए। उन्होंने रेशमपुरा कॉलोनी में पेयजल के स्थाई निराकरण के लिए एक करोड़ रुपए की पेयजल योजना शासन से स्वीकृत कराने की जानकारी ग्रामीणों को दी। उन्होंने कूनों नदी पर स्टाप डैम निर्माण कराने, गांव में बिजली पहुंचाने जैसी सुविधाएं दिलाने की बात ग्रामीणों को बताई। इस अवसर पर गिर्राज चौधरी, ब्लॉक अध्यक्ष रविन्द्र पाठक, विधायक प्रतिनिधि धीरज यादव, सेवादल जिलाध्यक्ष संजीव कुशवाह, सुजीत गर्ग, श्रीधर, प्रतापसिंह कुशवाह, मदनमोहन गुप्ता, मनोज गुप्ता आदि मौजूद रहे।

फोटो : 18

कैप्शन : ग्राम बासरैया में ग्रामीणों से रुबरु होते विधायक रावत।