वात्सल्य संस्था के निःशुल्क चिकित्सा शिविर में एक हजार मरीजों ने लिया स्वास्थ्य लाभ

शिवपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

सेवा के क्षेत्र में वात्सल्य संस्था का अमूल्य योगदान है। इस संस्था के संस्थापक अध्यक्ष पवन जैन ने निश्चित ही समाज की सेवा का जो प्रण लिया है वह उसमें खरे साबित हो रहे है। शिक्षा, धर्म, समाजसेवा और पीड़ित मानवता के क्षेत्र में वात्सल्य संस्था के जो कार्य यहां देखने को मिले वह निःसंदेह प्रशंसनीय है। कुछ इसी प्रकार का कार्य अखिल भारतीय दिगंबर सेवा न्यास के तत्वावधान में समय-समय पर होते रहते है। जहां जैसी सेवा में आवश्यकता होती है, उसकी पूर्ति की जाती है चाहे वह शिक्षा, सामूहिक विवाह, कैरियर काउंसलिंग, स्वास्थ्य सेवाएं हों इसके अलावा हम सन्मत फाउंडेशन के माध्यम से भी उच्च शिक्षा में योगदान देते है, शिवपुरी में मेदांता हॉस्पिटल के सहयोग से आयोजित यह शिविर अस्थाई ओपीडी के रूप में संचालित हो रहा है, जो वाकई एक नया और अभिनव प्रयास है, जहां सभी बीमारियों का उपचार शिविर के माध्यम से निःशुल्क किया जा रहा है। यह विचार अखिल भारतीय दिगंबर सेवा न्यास के महामंत्री कमलेश जैन ने निजी होटल में विद्यासागर महाराज के 51वें संयम स्वर्ण महोत्सव के उपलक्ष्य में सेवा भावी संस्था वात्सल्य समूह द्वारा आयोजित निःशुल्क चिकित्सा शिविर कार्यक्रम को मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित करते हुए व्यक्त किए। इस दौरान कार्यक्रम की अध्यक्षता वात्सल्य संस्था अध्यक्ष इंजी.पवन जैन ने की, जबकि कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अर्जुन लाल शर्मा सहित मेदांता हॉस्पिटल से आए विशेषज्ञ चिकित्सक डॉ. नरेश धमेरा न्यूरोलॉजी, डॉ. विवेक तिवारी फिजियोथेरेपिस्ट, डॉ. भगवत पटेल लीवर एवं फिजीशियन, डॉॅ. श्वेता बालानी स्त्री रोग जिनकी सहयोगी शिवपुरी से डॉॅ. उमा जैन रही, डॉ.गिरीश जैन नेत्र रोग विशेषज्ञ, डॉ. हिमांशु जैन अस्थि रोग, डॉ.अभिषेक राठौर हृदय रोग, डॉ. दिलीप जैन शिवपुरी एवं डीपीसी शिरोमणि दुबे, रूपेश जैन महामंत्री युवा जन परिषद आदि मौजूद थे। शिविर में 1 हजार मरीजों का परीक्षण कर उन्हें दवाईयों का वितरण किया गया।

10 कैप्शन : मरीजों का परीक्षण करते हुए डॉक्टर।