- यूपी व एमपी के 12 जिले के पुलिस अधिकारियों के संग की बैठक

- मध्य प्रदेश चुनाव के मद्देनजर बुलाई गई थी आलाधिकारियों की बैठक

झांसी। उत्तर प्रदेश के पुलिस मुखिया डीजीपी ओम प्रकाश सिंह आज हेलीकॉप्टर से महानगर में पहुंचे। उन्होंने शहर कोतवाली के बदले स्वरुप का उद्घाटन कि या। इसके बाद वह बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के गांधी ऑडिटोरियम में बॉर्डर मीटिंग में हिस्सा लेने पहुंचे। बैठक में महानगर के अलावा आगरा, मिर्जापुर, ललितपुर, जालौन और मध्य प्रदेश के शिवपुरी, निवाड़ी, टीकमगढ़, दतिया, मुरैना, छतरपुर जिले के अफसर हिस्सा लेने पहुंचे। बैठक में मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी चर्चा हुई। सदर विधायक रवि शर्मा ने डीजीपी का स्वागत कि या।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने कहा है कि मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले उप्र की सीमाएं सील की जाएंगी। राज्य के 12 जिले ऐसे हैं जिनकी सीमाएं एमपी से जुड़ी हैं। इन जिलों में मतदान से 48 घंटे पहले नाके बंदी कर दी जाएगी। दोनों प्रदेशों के डीजीपी की बैठक में यह फै सला लिया गया। मध्यप्रदेश चुनाव के चलते 18 नवंबर को इंदौर, 20 को झाबुआ और 23 नवंबर को मंदसौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं चुनाव प्रचार के लिए आएंगे। मध्य प्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले चुनाव के मद्देनजर झांसी स्थित बुन्देखण्ड विश्वविद्यालय में दोनों प्रदेशों के डीजीपी की बैठक की गई। बैठक की जानकारी देते हुए ओपी सिंह ने बताया कि बैठक में इस बात पर चर्चा हुई है कि कै से नेशनल बॉर्डर को सील कि या जाएगा। उन्होंने बताया कि हमने सभी पॉइंट को चिन्हित कर लिया है। मध्य प्रदेश की तरफ जाने वाली सभी सड़कों को हम नाका लगाकर रोकें गे। साथ ही हम लोगों ने इस बात पर चर्चा की है कि कई ऐसी जगह हैं जो संवेदनशील है उन पर सही तरीके से निपटने के लिए चर्चा की गई। 117 ऐसे स्थान चिन्हित कि ए गए है जिन्हें हम सील करेंगे। वहीं आज डीजीपी ने कोतवाली के नए भवन का लोकार्पण कि या। इस दौरान उन्होंने कोतवाली में पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह कोतवाली का चेहरा बदल है उस तरह से पुलिस अपना चरित्र व व्यवहार बदलें। थाने पर आने वाले हर फरियादी के साथ घर जैसा व्यवहार कि या जाए। यूपी पुलिस की परफॉर्मेंस का आकलन समाज करेगा। विश्वसनीयता कि तनी बढ़ी है। इसका आकलन भी जनता करेगी। उन्होंने बताया कि जनता का विश्वास बढ़ा है। उत्तर प्रदेश में अब तक कोई संगठित अपराध नहीं है। यह उत्तर प्रदेश पुलिस की सबसे बड़ी उपलब्धि है। पुलिस को जनता के विश्वास पर खरा उतरना होगा।

शहर कोतवाली को सुन्दर बनाने की जिम्मेदारी थाना प्रभारी उमेश त्रिपाठी को सौंपी गई थीं। जिसे पूरा करते शहर कोतवाली को न के वल सुन्दर बनाया गया बल्कि उसकी जिले में मिसाल दी जाने लगी। जिसका उद्घाटन करने के लिए आज डीजीपी ओपी सिंह झांसी पहुंचे। जहां उन्होंन शहर कोतवाली की सुन्दरता को देखकर थाना प्रभारी और एसएसपी विनोद कु मार की जमकर प्रशंसा की। इसके बाद फीता काटकर शहर कोतवाली का उद्घाटन कि या गया। उद्घाटन करने के बाद डीजीपी ने शहर कोतवाली का निरीक्षण कि या। इस दौरान झांसी सदर विधायक रवि शर्मा और बबीना विधायक राजीव सिंह पारीछा समेत अन्य मौजूद रहे।