भगवान अग्रसेन को पहनाई माला नाम लिखना भूले तो मामले ने पकडा तूल

शिवपुरी।पोहरी से कांग्रेस के प्रत्याशी सुरेश रांठखेडा नामांकन दाखिले के लिए अन्य प्रत्याशियों की तरह शिवपुरी आए थे। 6 नवंबर को उन्होंने नामांकन दाखिल किया था उससे पहले वे राजेश्वरी मंदिर गए, अग्रसेन चौक पर महाराजा अग्रसेन को भी माला पहनाई और बाद में माधव राव सिधिया की पर माला पहनाकर नामांकन दाखिल किया। दीवाली के त्यौहार में बात आई गई हो गई लेकिन सोशल मीडिया ने घाव हरे कर दिए और किसी की नजर फेसबुक पर सुरेश रांठखेडा के उस पोस्ट पर पडी जिसमें उन्होंने महाराजा अग्रसेन को माला पहनाने वाला फोटो लगाया लेकिन कैप्सन में उल्लेख किया कि नामांकन के पहले मां राजेश्वरी और स्व माधवराव सिंधिया को माला पहनाई। बस फिर क्या था राजनैतिक गलियारों में मामले को तत्काल कैश करने का सिलसिला शुरू हो गया और शनिवार को यह बात अग्रसेन समाज के जिलाध्यक्ष चंद्रकुमार बंसल की जानकारी में लाई गई। अध्यक्ष ने तत्काल कहा कि अग्रसेन महाराज को माला पहनाकर सिंधिया लिखा जाना अपमान है और यदि रांठखेडा ने माफी नहीं मांगी तो वे चुनावा आयोग से शिकायत दर्ज कराएंगे।

रांठखेडा बोले भूल हो गई मुझसे

सुरेश रांठखेडा से जब इस बारे में बात की गई तो उनका कहना था कि वे फेसबुक चलाना नहीं जानते। बच्चों ने गलती से अग्रसेन महाराज का नाम नहीं लिख पाया। मेरे ह्दय में महाराज अग्रसेन के लिए सम्मान था तभी तो उन्हें माला पहनाने गया। मां राजेश्वरी दरबार, अग्रसेन महाराज और स्व माधवराव सिंधिया को माला पहनाई। केवल नाम लिखने में भूल हुई है जिसके लिए मैं बार बार माफी चाहता हूं।