Naidunia
    Sunday, December 17, 2017
    PreviousNext

    आंगनबाड़ी घोटाले का दोषी लिपिक निलंबित

    Published: Fri, 08 Dec 2017 09:10 AM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 09:10 AM (IST)
    By: Editorial Team

    दस्तावेजों में की कूटरचना

    टीकमगढ़। एकीकृत बाल विकास परियोजना पृथ्वीपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा सहायिकाओं की भर्ती प्रक्रिया में व्यापक रूप से अनियमित्ताएं करने के साथ ही दस्तावेजों मे कूट रचना करने के आरोप में विभाग के सहायक संचालक द्वारा की गई जांच उपरांत लिपिक रामानंद तिवारी को कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। निलंबन अवधि में रामानंद तिवारी का मुख्यालय बाल विकास परियोजना बल्देवगढ़ बनाया गया हैं।

    एकीकृत बाल विकास सेवा के जिला कार्यक्रम अधिकारी आशीष जैन ने बताया कि एकीकृत बाल विकास परियोजना पृथ्वीपुर में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं की भर्ती मामले में व्यापक रूप से अनियमित्ता बरती गई। उन्होंने बताया कि इस संबंध में मामले की जांच सहायक आशीष जैन के द्वारा की गई जिसमें पाया गया कि विभाग के लिपिक रामानंद तिवारी द्वारा न केवल गोपनीयता भं्र की गई, वही आंगनबाड़ी केन्द्र सुनौनिया खास, गैलवारा खास, जवारपुर में प्राप्त आवेदन पत्रों के साथ अंकसूचियों में कूट रचना की गई, इतना ही नहीं दस्तावेजों की सत्यता को जानबूझकर नजरअंदाज कर वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश की अवहेलना की गई साथ ही लिपिक रामानंद तिवारी के द्वारा अंकसूचियों का सत्यापन सक्षम अधिकारी के द्वारा नहीं कराया गया।

    एकीकृत बाल विकास सेवा के जिला कार्यक्रम अधिकारी आशीष जैन ने बताया कि दस्तावेजों में हेराफेरी करने आदि आरोपों का प्रथम दृष्टया दोषी पाए जाने पर कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल ने सहायक वर्ग-3 रामानंद तिवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर इनका मुख्यालय बाल विकास परियोजना बल्देवगढ़ नियत किया गया।

    और जानें :  # tikamgarh news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें