टीकमगढ़। नईदुनिया प्रतिनिधि

जिला निर्वाचन अधिकारी अभिजीत अग्रवाल ने बताया कि मतगणना के प्रारंभ में सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती की जाएगी। उन्होंने बताया कि पोस्टल बैलेट की गणना के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्रवार अलग से एक टेबिल लगाई जाएगी। पोस्टल बैलेट की गणना प्रारंभ करने के 30 मिनट बाद ईवीएम से मतगणना प्रारंभ की जाएगी। यदि पोस्टल बैलेट की गणना ईवीएम के वोटों की गिनती के अंतिम चरण के पूर्व पूर्ण नहीं होती है तो पोस्टल बैलेट की गणना समाप्त होने के बाद ही ईवीएम की अंतिम चरण की गणना की जाएगी। प्रत्येक चरण की गणना का परिणाम मतगणना अभिकर्ता को प्रदान किया जाएगा और इसका गणना-पत्रक रिटर्निंग अधिकारी के टेबल पर नियुक्त गणना अभिकर्ताओं को दिया जाएगा। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक मतदान केन्द्र का चुनाव रेंडम आधार किया जाकर, उस मतदान केन्द्र में उपयोग हुए वीवीीपीएटी की स्लिपों का मिलान ईवीएम के कंट्रोल यूनिट में प्रदर्शित परिणाम से किया जाएगा। यह कार्य अभ्यर्थियों, निर्वाचन अभिकर्ताओं एवं केन्द्रीय प्रेक्षक की उपस्थिति में होगा। इसकी वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी। प्रत्येक विधानसभा की मतगणना में 14 मतगणना टेबिल होगी उतने ही मतगणना एजेंट उम्मीदवार द्वारा नियुक्त किए जा सकेंगे। उम्मीदवारों को रिटर्निंग ऑफिसर की टेबल पर मतगणना के अवलोकन के लिए भी एक काउंटिंग एजेंट की नियुक्ति की अनुमति होगी। इस तरह किसी भी उम्मीदवार द्वारा सामान्यतः अधिकतम 15 काउंटिंग एजेंट की नियुक्ति की जा सकेगी। इसके अलावा उम्मीदवार उस स्थान पर भी अपना गणना अभिकर्ता नियुक्त कर सकेगा जहां डाकमत पत्रों की गिनती की जाएगी।