निवाड़ी। नगर में बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का संदेश देते हुए एकीकृत बाल विकास परियोजना निवाड़ी के अन्तर्गत चलाए जा रहे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जनपद पंचायत निवाड़ी सभाकक्ष में प्रीति खंगार के मुख्य आतिथ्य में कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके बाद मुख्य अतिथि जनपद अध्यक्ष प्रीति खंगार ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। यह रैली जनपद कार्यालय से प्रारंभ होकर नगर के मुख्य मार्गों से निकाली गई।

ज्ञातव्य हो कि पूरे प्रदेश में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं सप्ताह 9 अक्टूबर से 14 अक्टूबर तक मनाया जा रहा है। जिसके शुभारंभ पश्चात रैली का आयोजन किया गया। साथ ही नगर में हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है। लोगों द्वारा अभियान में शामिल होकर हस्ताक्षर किए गए। उन्होंने बेटी को बचाने और उसे शिक्षित बनाने का संकल्प लिया। इस दौरान कहा गया कि बेटी के जन्म पर उत्सव मनाए, बालक एवं बालिकाओं की शिक्षा, स्वास्थ्य, पालन पोषण में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करें। इसके साथ ही बेटियों को परायाधन मानने की प्रथा का विरोध करेंगे। बाल विवाह एवं दहेज प्रथा जैसी सामाजिक कुरीतियों का विरोध किया जाएगा। लोगों ने अभियान के दौरान गर्भवस्थ भ्रूण का लिंग परीक्षण नहीं कराने का संकल्प लिया। कार्यक्रम में परियोजना अधिकारी कमला बनौधा, संजीव वशिष्ट, ज्योति मिश्रा, पुष्पा अहिरवार, गायत्री राजपूत, प्रेरणा दांगी, क्रांति यादव, मैरी इक्का, रिचा सूत्रकार, नवीन गुप्ता सहित आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रही।

पलेरा : महिला बाल विकास विभाग पलेरा के तत्वावधान में यहां बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सप्ताह का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष पर्वत लाल पुरैनिया के द्वारा सभी को बेटी बचाने और उसे शिक्षित बनाने का संकल्प दिलाया गया। इस मौके जिला पंचायत अध्यक्ष ने बालक बालिकाओं में भेद न करने एवं भ्रूण हत्या को रोकने का आह्वान किया। इस दौरान चलाए गए हस्ताक्षर अभियान के दौरान लोगों ने हस्ताक्षर कर बेटियों को बचाने और पढ़ाने का संकल्प लिया। विभाग के परियोजना अधिकारी प्रदीप मिश्रा के द्वारा इस सप्ताह में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम में चंद्रभान चतुर्वेदी, मनोज जैन के अलावा सेक्टर सुपरवाइजर एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रही।