इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि । नकली जेवर गिरवी रखकर सराफा कारोबारियों से बंटी और बबली ने 41 लाख रुपए ठग लिए। आरोपितों ने अपना नाम और पता भी कारोबारियों को गलत बताया है। दोनों ने पहले कई बार असली जेवर गिरवी रखकर रुपए उधार लिए और पैसा समय पर वापस कर दिया। जब विश्वास जम गया तब बाजार से ज्यादा ब्याज देने का प्रलोभन देकर दोनों रुपए लेकर फरार हो गए।

सराफा पुलिस ने गुरुवार रात अतुल बोहरा की शिकायत पर सुभाष पिता तुकाराम निवासी देवगुराड़िया और उसकी महिला साथी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। एसआई नरेंद्र जयसवार ने बताया कि बोहरा ने 22 मई को शिकायत की थी। आरोपितों ने बोहरा के साथ दीपचंद सोनी, मनीष सोनी और आकाश गुप्ता के साथ भी धोखाधड़ी की है। आरोपित मूलत: प्रतापगढ़ (राजस्थान) के रहने वाले हैं। बोहरा ने बताया कि आरोपितों ने जेवर रखकर उससे 20 लाख रुपए उधार लिए थे। इसी तरह बाकी कारोबारियों से भी नकली जेवर गिरवी रखकर उसने कुल 40 लाख 90 हजार रुपए लिए और फरार हो गया।