-भोपाल में धोखाधाड़ी, ज्यादती, मारपीट और हत्या के प्रयास के मामले दर्ज है आरोपित पर

-जबलपुर और दमोह पुलिस भी है आरोपित की तलाश में

भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि

एमपी व यूपी के कई जिलों में लोगों को नौकरी लगवाने के नाम पर लाखों रुपए ऐंठने वाले शातिर जालसाज सतीश सागर को निशातपुरा पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ निशातपुरा थाने में एम्स में नौकरी लगवाने के नाम पर ढाई लाख रुपए की धोखाधड़ी की शिकायत की थी।

निशातपुरा टीआई चैन सिंह ने बताया कि प्रमोद शर्मा ने लिखित शिकायती आवेदन दिया था। जिसमें उसकी पत्नी सुधा शर्मा की नौकरी एम्स अस्पताल में लगवाने के नाम पर उससे 2 लाख 60 हजार लेकर नौकरी लगने का फर्जी आदेश सतीश और उसके साथी ने दिया था। पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच जांच में लिया था। आरोपित जबलपुर का रहने वाला है, लेकिन वर्तमान में वह बैरसिया में रहता है।

रेप और हत्या की कोशिश के मामले भी

टीआई रघुवंशी ने बताया कि सूचना मिली कि आरोपित 50 वर्षीय सतीश सागर फिजा कॉलोनी की तरफ देखा गया है। तस्दीक के बाद मौके पर पहुंचकर उसे दबोच लिया। आरोपित ने पूछताछ में कबूल किया कि उसने दमोह, रायसेन और जबलपुर में कई लोगों से नौकरी लगवाने के नाम पर रकम ले रखी है। उसने प्रमोद शर्मा से भी दो लाख 60 हजार रुपए लेकर नौकरी लगवाने की बात कबूल की है। बाकी अपराधों में उससे पूछताछ की जा रही है। आरोपित पर जबलपुर, दमोह और भोपाल में धोखाधड़ी के मामले दर्ज है। वहीं, रातीबढ़ में मारपीट, ठगी, रेप, हत्या की कोशिश जैसे अपराध में भी वह लिप्त है। सतीश सागर की गिरफ्तारी के बाद उसके साथी सुरेंद्र हारून की तलाश की जा रही है।