घट्टिया (उज्जैन)। आगर-उज्जैन रोड पर घट्टिया के पास एक बेकाबू कार ने दो बाइक पर सवार लोगों को टक्कर मार दी। दुर्घटना में दो की मौत हो गई वहीं तीन अन्य घायल हो गए। हादसे के बाद क्षेत्रवासियों का आक्रोश फूट पड़ा। लोगों ने शव सड़क पर रख चक्काजाम किया। वहीं देरी से पहुंची एम्बुलेंस में तोड़फोड़ कर अन्य वाहनों पर भी पत्थर मारे। इधर कार चालक वाहन समीप के खेत में छोड़ फरार हो गया। पुलिस ने वाहन जब्त कर चालक की तलाश शुरू कर दी है। कार से शराब की बोतल भी मिली है। इससे आशंका है कि चालक शराब पीकर वाहन चला रहा था।

पुलिस के अनुसार उज्जैन से आगर की ओर जा रही कार (एमपी-09-सीवी-7613) ने बुधवार दोपहर 12 बजे घट्टिया से धन्नााखेड़ा जा रहे बाइक सवार भगवान पिता देवजी बागरी, भेरूसिंह पिता इंदरसिंह सौंधिया और मूलचंद पिता रणछोड़ सभी निवासी धन्नाखेड़ी को टक्कर मार दी। टक्कर के बाद बाइक कार में फंस गई जिसे कार चालक डेढ़ किमी तक घसीटते हुए ले गया। इसके बाद कार चालक ने घट्टिया से इलाज करवाकर बाइक से तुलहेड़ा लौट रहे जीवनसिंह पिता शंकरसिंह उसकी बहन सोना और एक तीन दिन की बच्चे को टक्कर मार दी।

इलाज नहीं मिलने पर तोड़ा दम

दुर्घटना में भगवान पिता देवजी (30) की मौके पर मौत हो गई। वहीं घायल भेरूसिंह पिता इंदरसिंह (60) को स्थानीय शासकीय अस्पताल ले जाया गया मगर वहां उसने दम तोड़ दिया। ग्रामीणों का आरोप है कि अस्पताल में डॉक्टर नहीं होने और समय पर इलाज नहीं मिलने के कारण भेरूसिंह की मौत हुई। गंभीर रूप से घायल मूलचंद पिता रणछोड़ को उज्जैन के निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। वहीं जीवनसिंह पिता शंकरसिंह उसकी बहन सोना को जिला अस्पताल भेजा गया। उसके बच्चे को कोई चोट नहीं आई है।

भड़के लोग, एम्बुलेंस फोड़ी

दुर्घटना के बाद ग्रामीण नाराज हो गए और मृतक भगवान का शव अस्पताल के सामने रख चक्काजाम कर दिया। घायलों को लेने के लिए एम्बुलेंस एक घंटे देरी से पहुंचीं। इस पर ग्रामीणों ने उसके कांच तोड़ दिए। इसके अलावा जनपद उपाध्यक्ष घट्टिया हाकमसिंह पटेल की कार के कांच भी फोड़ दिए। इश वाहन पर विधायक लिखा हुआ था।

1.30 घंटे बाद पहुंचे अधिकारी

दुर्घटना के डेढ़ घंटे बाद एसडीएम शोभाराम सोलंकी ,तहसीलदार राजाराम करजरे व डीएसपी मनीष खत्री व थाना प्रभारी जेआर चौहान शिवरात्रि पर्व की ड्यूटी से मौके पर पहुंचे व ग्रामीणों को समझाइश देकर चक्काजाम खुलवाया।

इंदौर की है कार

पुलिस के अनुसार टक्कर मारने वाली कार इंदौर के बिजली नगर निवासी कैलाश के नाम पर रजिस्टर्ड है। टक्कर मारने के बाद कार चालक घोंसला की ओर वाहन लेकर भागा था। वहां एक खेत में कार छोड़ फरार हो गया। पुलिस ने वाहन जब्त कर चालक की तलाश शुरू कर दी है।