उज्जैन (ब्यूरो)। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस मंगलवार को ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर पहुंचे। फडनवीस ने मंदिर के गर्भगृह में पुजारी प्रदीप गुरु व संजय पुजारी के आचार्यत्व में भगवान का रुद्राभिषेक व पंचामृत पूजन किया। पश्चात नंदीहॉल में भगवान नंदी से मुराद मांगी। गर्भगृह में प्रवेश के लिए उन्होंने 1500 रुपए की शासकीय रसीद भी कटवाई।

सहायक प्रशासनिक अधिकारी दिलीप गरुड़ ने बताया लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण मंदिर में वीआईपी व्यवस्था पर प्रतिबंध है, इसलिए सीएम ने गर्भगृह में प्रवेश के लिए रसीद कटवाई। महाकाल धर्मशाला के कमरा नंबर एक में वे सोला पहनने के लिए रुके थे, इसलिए 1200 रुपए कमरे का किराया भी चुकाया।

गौरतलब है कि प्रवेश बंद के दौरान गर्भगृह में जाकर भगवान महाकाल के दर्शन करने के लिए आम दर्शनार्थियों को 1500 रुपए की रसीद कटवाना होती है।

गर्भगृह में होड़

मुख्यमंत्री फडनवीस की पूजा कराने के लिए कुछ अन्य पुजारियों में होड़ भी मची रही। पूजा कर रहे मुख्यमंत्री के साथ कई पुजारी खड़े थे। कुछ पुजारियों ने कहा कि फडनवीस से उनके पुराने संबंध हैं।