-संभागायुक्त की अध्यक्षता में 19 को बोर्ड बैठक में प्रस्ताव होगा पेश

उज्जैन। यूडीए की विभिन्न आवासीय योजनाओं में 103 मकान खाली पड़े हैं। प्राधिकरण प्रशासन अब इनको बेचने की तैयारी में जुट गया है। बोर्ड बैठक की हरी झंडी मिलने के बाद इन मकानों को बेचने के लिए विज्ञप्तियां निकाली जाएंगी। मकानों के बिकने से प्राधिकरण के खजाने में कोष भी इकठ्ठा होने की उम्मीद है।

प्राधिकरण की शिप्रा विहार, त्रिवेणी विहार, बसंत विहार और महानंदानगर कॉलोनी में मकान खाली पड़े हैं, जिनमें एलआईजी, एमआईजी और ईडब्ल्यूएस श्रेणी के मकान हैं। लोकसभा चुनाव की व्यस्तताओं के कारण प्राधिकरण के कामकाज भी प्रभावित हो गए हैं। सीईओ अभिषेक दुबे का भोपाल स्थानांतरण होने के कारण फिलहाल प्रभार अधीक्षण यंत्री आरसी वर्मा संभाल रहे हैं।

स्वीमिंग पूल अगले साल शुरू होने की उम्मीद

यूडीए द्वारा बनाए गए स्वीमिंग पूल को वर्तमान में खेल विभाग को सौंपा जा चुका है। इसके अगली गर्मी के मौसम तक ही शुरू होने की संभावना है। पुलिस हाउसिंग द्वारा इसका कार्य कराया जाएगा। जल्द ही इसके लिए पुलिस हाउसिंग की ओर से टेंडर लगाया जाएगा। निर्माण एजेंसी तय होने के बाद ही पूल का काम शुरू होगा। बहरहाल, इस मौसम में पूल शुरू होने की संभावना नहीं है।

----

मकानों का सिंबालिक फोटो