उज्जैन। दादा-दादी के पास सो रही पांच साल की बालिका का अपहरण कर दुष्कर्म व उसके बाद हत्या करने वाले दरिंदे को रविवार को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे जेल भेजने के आदेश जारी हो गए। कोर्ट में पेशी के दौरान अभिभाषक उसे मारपीट करने की तैयारी में थे। इस पर पुलिस ने आरोपित को पीछे के रास्ते कोर्ट में पेश कर दिया। मासूम को जल्द न्याय दिलाने के लिए डीएनए व डायटम टेस्ट करवाया जा रहा है। एक-दो दिन में रिपोर्ट मिलते ही पुलिस चालान पेश कर देगी।

गुरुवार रात भूखी माता मंदिर बायपास के समीप ईंट-भट्टे पर बच्ची दादा-दादी के पास झोपड़े में सो रही थी। इस दौरान बदमाश बच्ची को उठा ले गया। पहले उसके साथ ज्यादती की, बाद में सिर पर ईंट मारकर शिप्रा नदी में फेंक दिया। शुक्रवार दोपहर तीन बजे बच्ची का शव नदी में मिला था। इसके बाद जांच शुरू की गई। पुलिस ने संदेह के आधार पर बच्ची के पड़ोस में रहने वाले शिवा राव को गिरफ्तार किया था। उसने वारदात कबूल कर ली थी। रविवार को आरोपित शिवा राव को पुलिस कोर्ट में पेश करने की तैयारी में जुटी थी।

इस दौरान अभिभाष संघ के सदस्य कोर्ट के बाहर एकत्र हो गए। पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपित के साथ अभिभाषक मारपीट कर सकते हैं। इस पर भारी पुलिस बल तैनात किया था। महाकाल टीआई अरविंद तोमर व नानाखेड़ा टीआई सतनाम ने अभिभाषकों को समझाइश देने का प्रयास किया। अभिभाषकों का कहना था कि आरोपित को हम लोगों के हवाले कर दो। इस पर पुलिस ने पीछे के रास्ते से आरोपित शिवा राव को कोर्ट में पेश कर दिया। जहां से उसे जेल भेजने के आदेश जारी हो गए।

फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा मामला

एसपी सचिन अतुलकर के अनुसार डीएनए सहित अन्य जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। जांच रिपोर्ट मिलते ही चालान पेश कर दिया जाएगा। इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गई है। मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा। एक सप्ताह में सजा दिलवाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

आरोपित के कपड़ों पर मिले खून के छींटे

एफएसएल अधिकारी डॉ. प्रीति गायकवाड़ के अनुसार आरोपित को सजा दिलाने में पुलिस को घटनास्थल से मिले भौतिक साक्ष्य महत्वपूर्ण हैं। मौके से खून सनी ईंट, बालिका के कपड़े बरामद किए हैं। इसके अलावा आरोपित शिवा की पेंट भी जब्त की है, जिसमें खून के छींटे हैं। सभी से डीएनए जांच के लिए सागर स्थित लैब भेजा गया है। जांच रिपोर्ट एक-दो दिन में आ जाएगी। इसके अलावा रिपोर्ट में बच्ची से दुष्कर्म की पुष्टि होने पर आरोपित को सजा निश्चित मिलेगी। डीएनए रिपोर्ट एक से दो दिन में आ जाएगी।

डायटम टेस्ट से भी मिलेगा सुराग

इसके अलावा बालिका का शव पानी में मिलने के कारण उसका भोपाल में डायटम टेस्ट भी करवाया जा रहा है। जिससे पता चलेगा कि बालिका की मृत्यु पानी में फेंके जाने से पूर्व हुई या फिर पानी में फेंकने के कारण हुई थी।

जेल में अलग बैरक में रखा

कोर्ट के आदेश के बाद महाकाल पुलिस ने आरोपित शिवा को केंद्रीय जेल भैरवगढ़ भेज दिया। जेल में भी कैदी उस पर हमला कर सकते हैं। इसको लेकर जेल प्रशासन ने शिवा को अलग बैरक में रखा है। जिसके आसपास जाने की किसी को अनुमति नहीं है। जेल अधीक्षक अलका सोनकर के अनुसार जेल में आरोपित की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाएगा।

दो विधायक पहुंचे संवेदना व्यक्त करने

पूर्व मंत्री व विधायक पारस जैन व दक्षिण क्षेत्र के विधायक मोहन यादव रविवार शाम को बालिका के घर संवेदना व्यक्त करने पहुंचे।