उज्जैन। विधायक के भतीजे व पूर्व मंत्री पारस जैन के पीए से प्लेन टिकट बुक करने के नाम पर ठगी करने वाले बदमाश ने दिल्ली में भी कई लोगों को चूना लगाया है। उसके खिलाफ दिल्ली में भी मामले दर्ज हैं। ठगी करने में उसका साथ पेंटर भी दे रहा था। माता-पिता ने ठगोरे को घर से निकाला तो वह एक माह से पेंटर के यहां ही रह रहा था।

मंगलवार को पुलिस ने दोनों आरोपितों को कोर्ट में पेश किया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। पुलिस ने बताया कि अभिषेक व्यास निवासी फ्रीगंज पूर्व मंत्री पारस जैन के पीए हैं। व्यास परिवार सहित आसाम स्थित कामख्या देवी के दर्शन करने के लिए जा रहे थे। सेठी नगर निवासी आयुष शर्मा ने उन्हें इंदौर से गुवाहाटी के लिए प्लेन की टिकट बुक करने के नाम पर 31 हजार रुपए का चूना लगाया था। इसके अलावा विधायक मोहन यादव के भतीजे नमीत के साथ 22 हजार रुपए की प्लेन टिकट के नाम पर रुपए ठगने वाले ने देवास के किन्नर समूह, चिकित्सक को भी ठगा।

एसआई तरुण कुरील ने बताया कि आयुष मात्र 12वीं कक्षा तक पढ़ा हुआ है। वह दिल्ली में अपनी दादी के साथ रहता था। वहां ड्राइवरी करता था। इस दौरान उसकी कुछ बदमाशों से मुलाकात हुई और वह ठगी करने लग गया। दिल्ली में कई लोगों को चूना लगाया है। इसकी जानकारी दादी को लगी तो उसने अपने घर से निकाल दिया। इस पर वह उज्जैन में अपने मां-बाप के साथ रहने लगा। यहां भी उसने कई लोगों के साथ ठगी की है।

पेंटर के यहां रह रहा था

उज्जैन में भी कई लोगों को आयुष ने शिकार बनाया था। दो माह पूर्व उसके घर पर पुताई करने के लिए आए हेमंत पिता बाबूलाल जाटव निवासी शहीद नगर आगर रोड को उसने अपना पार्टनर बना लिया। दोनों कई लोगों को ठग चुके थे। इस कारण माता-पिता ने आयुष को घर से निकाल दिया तो वह हेमंत के साथ उसके घर पर रह रहा था। पुलिस ने हेमंत को भी गिरफ्तार कर लिया।