चालानी कार्रवाई से बचने के लिए अपना रहे फंडे, नहीं चली तो कटवाया चालान

फोटो नंबर 15 और 16

हेलमेट पहनकर जाने वालों को दिए गए फूल

छिंदवाड़ा। हैलो सर मेरी बाइक यातायात विभाग के सामने पुलिस ने रोक ली है। आप सब इंस्पेक्टर से कह दो की छोड़ दें। इसके बाद वाहन चालक मोबाइल सब इंस्पेक्टर को देने लगता है। तभी पुलिसकर्मी कहता है मैं किसी साहब से बात नहीं करूंगा। वाहन चालक कहता है कि बड़े अधिकारी हैं। उनका ट्रांसफर हो गया है। उन्हीं का सामान पैक करने के लिए सामग्री लेकर जा रहा हूं। गुस्साया सब इंस्पेक्टर कहता है मैं एसपी साहब के अलावा किसी के निर्देश का पालन नहीं करूंगा। आखिरकार बाइक सवार को चालान कटवाना पड़ जाता है। मामला यातायात थाने का है। जहां वाहन चालक चालानी कार्रवाई से बचने अधिकारियों, राजनीतिज्ञों और रसूखदारों से फाने पर बात करवा रहे है। बताते चलें कि शहर में दो दिनों से हैलमेट मुहिम चल रही है। जगह जगह तिराहे चौराहे, पुलिस थाना के सामने बिना हैलमेट लगाकर वाहन चालने पर चालानी कार्रवाई से गुजरना पड़ रहा है। कोई राजनेताओं से तो कोई अधिकारियों से बात करवाने की कोशिश कर रहे हैं। इस दौरान पुलिस ने फोन पर किसी की भी बात मानने से इंकार कर दिया है। पकड़ाए जाने से सीधी चालानी कार्रवाई की जा रही है। हालांकि जो लोग हेलमेट पहन रहे हैं, उनका सम्मान भी हो रहा है, पुलिस कर्मी और सामाजिक संगठन फूल और हार से ऐसे लोगों का सत्कार कर रहे हैं।

दिन भर में बने 1 हजार से अधिक बने चालान

शहर में बीते बिना बगैर हैलमेट के वाहन चला रहे चालकों परतकरीबन 1 हजार से अधिक चालानी कार्रवाई की गई। जिससे पुलिस विभाग को दो लाख से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है। बुधवार को भी चालानी कार्रवाई की गई। देर शाम पर जानकारी नहीं मिलने के कारण आंकड़े नहीं मिले।

इन पर भी हो कार्रवाई

इधर शहर की जनता का मानना है कि हैलमेट के अलावा ओवर लोडिंग, अनफिट वाहन, क्षमता से अधिक सवारी वाहन पर, बीच सड़कों पर सवारी भरने पर, नाबालिग चालकों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। अकेले हैलमेट मुहिम से चालकों को परेशान करना भी गलत है। इस तरह की बातें आम जनता में चल रही है।