Naidunia
    Sunday, February 18, 2018
    PreviousNext

    आज से जिले भर की आंगनबाड़ियों में डलेंगे ताले, धरने पर बैठेगीं कार्यकर्ता

    Published: Thu, 15 Feb 2018 09:57 PM (IST) | Updated: Thu, 15 Feb 2018 09:57 PM (IST)
    By: Editorial Team

    पुलआउट पेज 3 लीड

    - 9 सूत्रीय मांगों का निराकरण नहीं होने से नाराज हैं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताएं

    फोटो 7

    विदिशा। हड़ताल की सूचना देने के लिए एसडीएम कार्यालय पहुंची आंगनबाड़ी कार्यकर्ताएं।

    विदिशा। नवदुनिया प्रतिनिध

    अपनी 9 सूत्रीय मांगों को लेकर आज शुक्रवार से जिले भर की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका हड़ताल पर जा रही हैं। गुरूवार को शेरपुरा स्थित चित्रगुप्त मंदिर में कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। जिसमें आंदोलन की रणनीति बनाई गई। शाम को एसडीएम रविशंकर राय को आवेदन देकर आंदोलन की सूचना दी गई है। 6 दिन तक एडीएम बंगले के सामने धरना दिया जाएगा।

    आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका संघ की जिलाध्यक्ष मिथलेश श्रीवास्तव ने बताया कि बैठक में जिले भर से ब्लाक और सेक्टर अध्यक्ष मौजूद रहीं। बैठक में तय किया गया है कि 16 फरवरी से 21 फरवरी तक एडीएम बंगले के सामने धरना दिया जाएगा। इसके बाद 22 फरवरी से भोपाल में आयोजित प्रदेश स्तरीय धरनें में कार्यकर्ता शामिल होंगी। उन्होंने बताया कि नियमितीकरण, 18 हजार रुपए प्रति माह वेतन सहित 9 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन किया जा रहा है। बैठक में प्रीति गौड, क्रांति वंशकार, लक्ष्मी अहिरवार, बबीता रजक, निधि शर्मा ,शिवाली वर्मा, नेहा राय, सीमा शर्मा, सविता सक्सेना आदि शामिल रहीं।

    सरकार ने की वादा खिलाफी

    आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने बताया कि वे अपनी मांगों को लेकर कई वर्षों से सरकार को अवगत करा रहे हैं। लेकिन उनकी मांगों पर विचार तक नहीं किया जा रहा। करीब 3 माह पहले महिला एवं बाल विकास आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका एकता कल्याण संगठन मध्यप्रदेश के बैनरतले उन्होंने चार दिवसीय अनिश्चित कालीन हड़ताल की थी। इसके बाद चेतावनी देकर हड़ताल को स्थगित कर दिया था। करीब 15 दिन बाद संगठन ने 1 दिसंबर को भोपाल में चक्काजाम किया था। इस दौरान महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनिस ने आश्वासन दिया था कि वे सीएम से चर्चा कर उनकी मांगों को पूरा कराएगी। लेकिन दो माह बाद भी उनकी मांगे नहीं मानी गई हैं। सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अब हड़ताल की घोषणा की है।

    आंदोलन की दी चेतावनी

    आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को पूरा कराने के लिए संगठन तैयार कर लिया है। मध्यप्रदेश बुलंद आवाज नारी शक्ति आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संगठन के बैनरतले कार्यकर्ताओं ने आंदोलन की घोषणा की है। उनका कहना है कि आगामी 5 दिनों के भीतर उनकी मांगों को नहीं माना गया तो भोपाल में महा आंदोलन किया जाएगा। सरकार को नारी शक्ति की पहचान कराई जाएगी। इस आंदोलन में भी उनकी मांग पूरी नहीं होती है तो पूरे प्रदेश की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताएं अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चली जाएंगी।

    आंगनबाड़ियों में डलेंगे ताले

    आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की हड़ताल के कारण जिले में संचालित होने वाली आंगनबाड़ियों में ताला डलने की नौबत बन जाएगी। विभागीय सूत्रों के अनुसार आंगनबाड़ियों का संचालन कार्यकर्ता एवं सहायिका ही करती हैं। यदि दोनों हड़ताल पर रही तो आंगनबाड़ियां नहीं खुलेंगी। इस स्थिति में आंगनबाड़ियों में दर्ज हजारों बच्चों को नियमित पोषण आहार नहीं बंट पाएगा। कुपोषण से जूझते जिले में ये हड़ताल गरीब बच्चों के लिए परेशानी वाली साबित हो सकती है।

    पुलआउट पेज 1 के लिए

    गन्ने के खेत में कर रहा था गांजे की खेती, 583 पौधे सहित आरोपी गिरफ्तार

    फोटो 10

    विदिशा। पुलिस की गिरफ्त में आया गांजे की खेती करने वाला आरोपी।

    विदिशा। सिरोंज तहसील के मुगलसराय थाना अंतर्गत एक व्यक्ति गन्ने के खेत में गांजे की खेती कर रहा था। मुखबिर की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने खेत पहुंचकर 583 हरे पौधे सहित आरोपी को गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है।

    एसपी विनीत कपूर ने बताया कि जिले में मादक पदार्थो का सेवन एवं तस्करी के खिलाफ मुहिम चलाई जा रही है। इस काम में मुखबिरों को सक्रिय किया है। और मुखबिरों से सूचना मिलते ही तुरंत कार्यवाही की जा रही है। 14 फरवरी को मुखबिर से सूचना मिली थी कि आरोपी आमखेड़ा निवासी नथनसिंह यादव के खेत में गांजे के पेड़ लगाए गए हैं। जिन्हें बेचने की तैयारी की जा रही है। सूचना मिलते ही पुलिस जवानों की एक टीम बनाई गई। टीम ने मौके पर पहुंचकर खेत के अंदर जाकर देखा तो गन्नों की फसल के बीच में कई जगह गांजे के हरे पेड़ लहलहा रहे थे। टीम ने खेत से 583 पेड जप्त किए हैं। टीम में थाना प्रभारी अर्चनासिंह, बीएस भिलाला, देवेन्द्र पिप्पल, संदीप मालवीय, शिवनारायण राठौर, राहुल पटेल, रूपेन्द्र तोमर, आदि शामिल रहे।

    और जानें :  # vw˜ytWx vus 3 ˜ezyts
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें