जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि । मोतीलाल नेहरू वार्ड में पिछले कई दिनों से पानी को लेकर मचे कोहराम के बाद गुरुवार को जनता ने क्षेत्रीय पार्षद और निगम अधिकारी को बंधक बना लिया। करीब एक घण्टे तक हंगामा होता रहा। जानकारी मिलते ही दो थानों की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी लेकिन जनता को समझा नहीं सकी। आखिरकार निगम अधिकारी ने टैंकर बुलवाकर लोगों को पानी दिया और दो दिन के भीतर समस्या का स्थाई हल करने का आश्वासन दिया तब जाकर हंगामा बंद हुआ।

मोतीलाल नेहरू वार्ड की गाजीनगर बस्ती में लेमागार्डन पानी टंकी से जलापूर्ति होती है लेकिन पिछले 3 दिनों से वहां पानी नहीं पहुंच रहा है। इसको लेकर जनता ने क्षेत्रीय पार्षद ताहिर अली के साथ निगम अधिकारियों से भी शिकायत की लेकिन कोई हल नहीं निकला। समस्या को हल कराने को लेकर गुरुवार को क्षेत्रीय पार्षद ने जलविभाग के कार्यपालन यंत्री पुरुषोत्तम तिवारी को चर्चा के लिए बुलाया।

अधिकारी और पार्षद के बीच जब उनके कार्यालय में चर्चा चल रही थी उसी दौरान गाजी नगर बस्ती के करीब 500 महिला-पुरुष मौके पर पहुंच गए और उन्होंने कार्यालय का घेराव कर हंगामा शुरू कर दिया। करीब एक घण्टे तक हंगामा होता रहा।

3 थानों की पुलिस पहुंची -

हंगामा की जानकारी मिलते ही गोहलपुर, कोतवाली और आधारताल थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। भारी पुलिस बल को देखकर भी जनता ने घेराव बंद नहीं किया और अधिकारी पार्षद को भी बाहर नहीं निकलने दिया। हालांकि पुलिस अधिकारी जनता को समझाते रहे लेकिन कोई मानने तैयार नहीं हुआ।

तत्काल बुलवाया टैंकर -

भड़की जनता को शांत कराने के लिए कार्यपालन यंत्री ने तत्काल दो टैंकर बुलवाकर जनता को पानी बंटवाया। जैसे ही टैंकर पहुंचे लोगों की कतार लग गई। इसी बीच अधिकारी ने जनता को आश्वासन भी दिया कि गोहलपुर पानी टंकी से जलापूर्ति दो दिन के भीतर शुरू कर दी जाएगी, तब जाकर लोग माने।