मुंबई। पिछले दो साल से एक शख्स किसी और डॉक्टर के नाम का इस्तेमाल कर रहा है और उसके नाम पर ही धड़ल्ले से क्लिनिक भी चला रहा था। वह मालवानी इलाके में क्लिनिक चलाते हुए अपना गुजर-बसर कर रहा था।

यह घटना तब सामने आई जब बीएमसी ने जांच पड़ताल की। उस इलाके के स्लम में रह रहे लोग उसके मुख्य टारगेट थे।

इस संबंध में असिस्टेंट मेडिकल ऑफिसर अमोल चौहान ने शिकायत दर्ज की थी। आरोपी की पहचान अब्दुल अज़ीज के रूप में हुई। बांद्रा के रहने वाला यह शख्स खुद को 'डॉ. शैफ परवेज अब्दुल अज़ीज' बताता था औप अज़ीज पॉलीक्लिनिक नाम से क्लिनिक चलाता था।

यह फर्जी क्लिनिक जोसेफ पटेल रोड, मालवानी में स्थित है। पुलिस अधिकारी के मुताबिक आरोपी ने इस नाम का फायदा इसलिए उठाया क्योंकि उसका और डॉक्टर का नाम एक जैसा था।

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने अपने क्लिनिक के बाहर एक बोर्ड भी लगा रखा था। बोर्ड पर लिखी जानकारी के मुताबिक आरोपी ने मेडिसिन और सर्जरी में साल 2004 में बैचलरी डिग्री ले रखी थी। महाराष्ट्र मेडिकल काउंसिल द्वारा जारी रजिस्ट्रेशन नंबर भी बोर्ड पर लिखा था।

जब रजिस्ट्रेशन नंबर को क्रॉस-चेक किया गया तो पाया गया कि वह नंबर डॉ. शेख परवेज अब्दुल अज़ीज के नाम से था। परवेज जोगेश्वरी में वैशाली नगर में रहते हैं। पुलिस उन वेडर्स की तलाश कर रही है जो कि आरोपी को दवाइयां सप्लाई करते थे।