मुंबई। सौतेली बेटी की हत्या के आरोप में जेल में बंद पूर्व मीडिया कारोबारी पीटर मुखर्जी को बांबे हाईकोर्ट ने जमानत देने से इन्कार कर दिया। अदालत ने पुलिस सुरक्षा में इलाज की इजाजत दे दी। मुखर्जी की एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में ओपन बाइपास सर्जरी हुई है।

अदालत ने मुखर्जी को सर्जरी के बाद के इलाज और फिजियोथेरेपी के लिए एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट जाने की अनुमति दी। कोर्ट ने कहा, 'एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट ने आवेदक को 26 सत्रों में थेरेपी की सलाह दी है। उसे पुलिस सुरक्षा में अस्पताल ले जाया जाएगा।'

मुखर्जी ने मेडिकल आधार पर अंतरिम जमानत की मांग की थी। शीना बोरा पीटर मुखर्जी की पत्नी इंद्राणी के पहले पति की बेटी थी। वह इंद्राणी के साथ रहती थी।

इंद्राणी शीना को अपनी छोटी बहन बताती थी। इंद्राणी मुखर्जी को शीना बोरा की हत्या के आरोप में 2015 में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के बाद पीटर मुखर्जी को गिरफ्तार किया था।