अहमदाबाद। सूरत में जन्म के दिन ही नवजात बालक पासपोर्ट धारक बन गया है। बच्चे के पिता ने बालक के जन्म के दिन करीब घंटे बाद जन्म प्रमाण पत्र हासिल कर पासपोर्ट आफिस पहुंचा। पासपोर्ट आफिस द्वारा तीन घंटे में बालक का पासपोर्ट जारी किया गया।

संभवत: देश का यह पहला बालक जो सबसे कम उम्र में पासपोर्ट धारक बना है। इस रिकार्ड को लिम्का व गिनीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकार्ड में स्थान मिले इसके लिए प्रयास शुरू किए हैं।

शहर के एक निजी अस्पताल में बुधवार सुबह 11.42 मिनट पर इस बालक का जन्म हुआ। नवजात बच्चे के पिता मनीष कुमार कापडिया ने बताया कि बालक का नाम रुगवेद रखा गया है।

महानगर पालिका के जन्म नामांकन विभाग में से करीब एक घंटे में रुगवेद का जन्म प्रमाण पत्र हासिल किया गया। इसके बाद तमाम कागजात के साथ वे पासपोर्ट आफिस पहुंचे।

यहां पासपोर्ट अधिकारी अंजनी कुमार पांडे ने करीब तीन घंटे में तमाम प्रक्रिया पूर्ण कर रुगवेद का पासपोर्ट दिया। पासपोर्ट अधिकारी अंजनी कुमार पांडे के मुताबिक भारत में जन्म के तीन घंटे बाद बालक का पासपोर्ट जारी हुआ हो संभवत यह पहला मामला है।

बालक के पिता मनीष कुमार कापड़िया बताते है कि जन्म के तीन घंटे बालक का पासपोर्ट इश्यू होना यह दर्शाता है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल इंडिया का सपना पूरा हो रहा है।