इलाहाबाद। इलाहाबाद का नाम अब प्रयागराज होगा। मंगलवार को यूपी सरकार ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। मंगलवार को हुई कैबिनेट में 12 प्रस्तावों को मंजूरी दी गई जिनमें से यह प्रस्ताव भी था। खबरों के अनुसार इसके साथ ही राज्य के सरकारी दफ्तरों में भी इसकी सूचना दे दी गई है।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ ने शनिवार शाम इलाहाबाद में कुंभ मार्गदर्शक मंडल की बैठक के बाद यह घोषणा की।

उन्होंने कहा कि संत लगातार इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयाग करने की मांग उठा रहे थे। मार्गदर्शक मंडल की बैठक में भी यह मुद्दा प्रमुखता से उठा। बैठक की अध्यक्षता कर रहे राज्यपाल राम नाईक ने भी इस पर सहमति जताई है।

उन्होंने कहा कि जहां दो नदियों का संगम होता है, उसे प्रयाग कहा जाता है। उत्तराखंड में देवप्रयाग, कर्णप्रयाग और विष्णुप्रयाग हैं। इलाहाबाद में देवभूमि से निकलने वाली दो पवित्र नदियों का संगम है, इसलिए इसे प्रयागराज कहा जाता है।