भुवनेश्वर। ओडिशा में चक्रवाती तूफान फेनी जब अपनी पूरी ताकत से शहर को तबाह करने में लगा हुआ था तभी इस भीषण तूफान में एक घर में चिराग जला। शहर में सुबह 11 बजे तक चक्रवात फेनी अपने पूरे शबाब पर था और 245 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं तब एक बच्ची ने अस्पताल में जन्म लिया।

इस भीषण तूफान में जन्मी बच्ची का नाम उसके परिजनों ने चक्रवाती तूफान फेनी के नाम पर रखा है। बच्ची के जन्म के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं।

जानकारी के अनुसार बच्ची की मां एक कोच रिपेयरिंग वर्कशॉप में नौकरी करती है। इस तबाही मचाने वाले तूफान में इस बच्चे की जन्म की खबर तेजी से वायरल हो रही है और लोग इस बच्ची की तस्वीर खूब शेयर कर रहे हैं।

बता दें कि ओडिशा के पुरी में सुबह 8 बजे के बाद तूफान टकराया है जिसके बाद से दोपहर 12 बजे तक 240 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चली हवाओं ने पूरे शहर को तहस-नहस कर दिया। सैकड़ों पेड़ उखड़ गए और इमारतों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। तूफान के दौरान एक बुजुर्ग की मौत की सूचना भी है। दिन बढ़ने के साथ-साथ तूफान भी पश्चिम बंगाल की तरफ बढ़ता जा रहा है।