नई दिल्ली। मक्का मस्जिद ब्लास्ट केस में सभी आरोपियों के बरी होने के बाद अब भाजपा ने कांग्रेस को निशाने पर लिया है। देश में 'भगवा आतंकवाद' को लेकर एक बार फिर राजनीति गर्मा गई है। मंगलवार को भाजपा नेता संबित पात्रा ने एक बार फिर से कांग्रेस पर हमला बोला और कांग्रेस नेताओं से मांग की कि वो देश से माफी मांगे। इस दौराने उन्होंने राहुल गांधी को भी हिंदू विरोधी करार दिया साथ ही एक 2009 में लिखा एक टेलीग्राम भी पेश किया।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी के मन में हिंदुअों के प्रति घृणा है। भाजपा ने मांग की है कि भगवा आतंकवाद को लेकर राहुल गांधी माफी मांगे। वहीं, उन्होंने कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम और सुशील कुमार शिंदे को भी आड़े हाथ लिया। संबित पात्रा ने कहा, 'कांग्रेस नेताओं ने भगवा आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल किया है।

संबित पात्रा ने आगे कहा कि 2010 में पहली बार चिदंबरम ने हिंदू आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल किया। केवल वोट की राजनीति के लिए कांग्रेस ने भगवा आतंकवाद शब्द का प्रयोग किया। राहुल के कैंडल मार्च पर निशाना साधते हुए उन्होंने सवाल किया कि क्या आज रात 12 बजे राहुल गांधी मोमबत्ती लेकर इंडिया गेट पर आएंगे। उन्होंने राहुल को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस नेताओं ने राहुल गांधी से ही हिंदू आतंकवादी जैसे शब्द सीखे हैं।

2009 के एक टेलीग्राम का जिक्र करते हुए संबित ने कहा कि राहुल गांधी ने अमेरिकी अंबेसडर से मिलकर कहा था कि भारत को लश्कर-ए-तैयबा से ज्यादा खतरा हिंदू आतंकवाद से है।

संबित पात्रा ने कहा, 'भाजपा राहुल गांधी जी, सुशील कुमार शिंदे जी और पी. चिदंबरम जी से 'भगवा आतंक' शब्द का इस्तेमाल करने के लिए माफी की मांग करती है। हम हिंदुओं को हल्के में नहीं ले सकते हैं। हम सभी के विकास में विश्वास करते हैं। हम तुष्टीकरण नहीं करते।'

माफी मांगें राहुल और चिदंबरम

संबित पात्रा ने कहा कि हमने पुख्ता सबूत दे दिए हैं। राहुल गांधी और चिदंबरम को सामने आना ही होगा, वह बच नहीं सकते। उन्हें माफी मांगनी चाहिए। पात्रा ने कहा कि हम धर्मनिरपेक्ष का सम्मान करते हैं, लेकिन आपको दुनिया भर में हिंदुओं को बदनाम करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

कांग्रेस का घेराव करते हुए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने कहा, 'किसी धर्म के नाम के साथ आतंक को जोड़ना एक मंत्री के अनुरूप नहीं होता है। हम भगवा आतंकवाद के शब्द को बर्दाश्त नहीं कर सकते। बहुत छोटा व्यक्ति बहुत उच्च स्थान (तत्कालीन गृहमंत्री) पर बैठा था।' वहीं, कांग्रेस को घेरते हुए भाजपा नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेताओं द्वारा हिंदुओं को बदनाम करने की साजिश रची गई। हिंदू आतंकवाद केवल एक राजनीतिक परियोजना थी, जिसे वोट बैंक की राजनीति के लिए राहुल गांधी द्वारा गढ़ा गया था।

बता दें कि सोमवार को मक्का मस्जिद ब्लास्ट मामले में स्वामी असीमानंद समेत 5 आरोपियों के बरी होने के बाद से भाजपा ने कांग्रेस पर निशाना तेज कर दिया है। भाजपा 'भगवा आतंकवाद' को लेकर कांग्रेस को चारों ओर से घेरने की तैयारी में जुटी है।