कोलकाता। भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई ने कोलकाता पुलिस से इस महीने के अंत में उसी स्थान पर धरना देने की अनुमति मांगी है जहां राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पिछले सप्ताह धरना दिया था। भाजपा के राज्य महासचिव सायंतन बसु ने कहा कि पार्टी ने पुलिस को पत्र लिख 21 से 23 फरवरी तक मेट्रो चैनल पर धरना देने की अनुमति मांगी है।

गौरतलब है कि चिटफंड घोटाला मामले में कोलकाता के पुलिस आयुक्त से पूछताछ करने की सीबीआइ की कोशिश के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने तीन से पांच फरवरी तक मेट्रो चैनल पर धरना दिया था। वहीं प्रदेश कांग्रेस ने भी मेट्रो चैनल में 11 से 14 फरवरी तक धरने की अनुमति मांगी थी, लेकिन प्रदेश कांग्रेस की ओर से रविवार को कहा गया कि कोलकाता पुलिस मेट्रो चैनल में धरने की अनुमति नहीं दे रही है।

कांग्रेस ने यहां तक कहा था कि माध्यमिक परीक्षा की वजह से धरना में माइक का इस्तेमाल नहीं करेंगे। इसके बावजूद भी अनुमति नहीं मिलने का आरोप कांग्रेस ने लगाया है। बताते चलें कि 2006 में 26 दिनों तक ममता ने सिंगुर आंदोलन को लेकर अनशन किया था।

इसके बाद जब ममता सत्ता में आईं तो किसी भी दल द्वारा मेट्रो चैनल में धरना देने पर रोक लगा दी गई थी। तीन फरवरी से उसी स्थान पर फिर ममता बनर्जी ने जब धरना दिया तो अब सभी दल उक्त स्थान पर धरने की अनुमति मांग रहे हैं।

माकपा नेता व सिलिगुड़ी नगर निगम के मेयर अशोक भट्टाचार्य ने भी कहा है कि वह मेट्रो चैनल में धरने के लिए अनुमति मांगेंगे।