रांची। रांची में गुरुवार को खून की लूट का अनोखा और सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह सूबे और देश का अपनी तरह का इकलौता मामला बताया जा रहा है। गुरुवार दोपहर दो बजे के करीब रांची सदर अस्पताल के ब्लड बैंक में युवक पहुंचा। उसने ब्लड मांगा, देने के लिए प्रकिया पूरी करने की बात कहने पर उसने ब्लड बैंक कर्मी गोपाल ठाकुर पर पिस्टल तान दी। इसके बाद फ्रीजर में रखा एक यूनिट ब्लड निकालकर आराम से चलता बना।

इस घटना की सूचना ब्लड बैंक कर्मियों ने पहले इंचार्ज बिमलेश सिंह को दी। इसके बाद लोअर बाजार थाने की पुलिस को सूचना मिली। सूचना मिलते ही वहां पुलिस पहुंची और छानबीन की। ब्लड बैंक कर्मियों के अनुसार कांके पतराटोली निवासी आजाद अंसारी नाम का युवक पहुंचा था। उसी ने ही हथियार के बल पर खून लूट लिया।

इस मामले में लोअर बाजार थाना प्रभारी का कहना है कि अब तक संबंधित युवक के संबंध में पता नहीं लग पाया है। उसकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। मामले में कितनी सच्चाई है संबंधित युवक के पकड़े जाने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।

युवक चेहरे पर मास्क पहनकर घुसा था। उसने अपनी मोटरसाइकिल ब्लड बैंक के बाहर खड़ी की। इसके बाद अंदर घुसा और बोला कि उसके किसी करीबी को खून की जरूरत है। एक यूनिट खून चाहिए। पिस्टल दिखाकर बोला मेरे पास ये है... कर्मचारी ने युवक से ब्लड लेने के लिए अस्पताल की रिक्वेस्ट लेटर और सैंपल मांगा। जबकि युवक के पास न रिक्वेस्ट लेटर था और न ही सैंपल। इसपर ब्लड बैंक कर्मियों ने प्रक्रिया का हवाला देते हुए खून देने से इन्कार कर दिया। इन्कार करने पर युवक ने गुस्से में गाली-गलौज शुरू कर दी। इसके बाद हथियार तानकर सभी को किनारे कर दिया।