चंडीगढ़। हरियाणा के पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शिकंजा और कस दिया है। ED ने मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत चौटाला की 1.94 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच की है, जिनमें कुछ जमीन और दिल्ली में स्थित एक फार्म हाउस शामिल है। जेबीटी (जूनियर बेसिक ट्रेनिंग) शिक्षक भर्ती मामले में जेल में सजा काट रहे चौटाला के खिलाफ भ्रष्टाचार का यह मामला केंद्रीय जांच ब्यूरो ने दर्ज किया था। यह मामला 1993 से 2006 के बीच का है।

ED ने इस मामले में चौटाला परिवार के सदस्यों से पूछताछ भी की थी। उनके बेटे अजय चौटाला और अभय चौटाला के संपत्ति से संबंधित दस्तावेजों को भी ED ने खंगाला था। ED ने पिछले महीने उनकी तीन करोड़ 68 लाख रुपये की संपत्ति को अटैच किया था। इसके साथ ही पिछले साल 17 जुलाई को प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली स्थित विशेष

अदालत में प्राथमिक चार्जशीट दर्ज की थी। उस चार्जशीट पर अदालत ने 27 नवंबर 2018 को संज्ञान ले लिया था, इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय की जांच अभी जारी है। अनुमान है कि इस मामले में आने वाले वक्त में प्रवर्तन निदेशालय कई और बड़ी कार्रवाई कर सकता है।